संवादसहयोगी,बिलासपुर:वर्तमानमेंसोशलमीडियाकेबढ़तेचलननेयुवाओंकोभारतीयसंस्कृतिवसिखइतिहाससेविमुखकरदियाहै।सिखइतिहासहमेशासेप्रेरणात्मकऔरकुर्बानीकारहाहै।उक्तशब्दयूनिवर्सलआर्टकल्चरवेलफेयरएकेडमीमोहालीकेलेखकगुरदयालसिंहनेकहे।कपालमोचनमेलेमेंसोसाइटीकीतरफसेपहलीबारऐलहूकिसदाहैनाटककामंचनकियागया,जिसमेंटीवीकलाकारअमृतपालसिंहवनरेंद्रनीनानेमंचनकरदर्शकोंकोमनरंजनकिया।नाटककामंचनगुरुनानकदेवजीकीसाखीभाईलालामलिकभागोपरआधारितथा,जिसमेंगुरुनानककीसाखीकेबारेमेंकलाकारोंनेमंचनकिया।नाटकगुरुद्वाराप्रबंधककमेटीकपालमोचनकीओरसेआयोजितकरायागया।गुरुद्वाराकेमैनेजरनरेंद्रसिंहनेबतायाकिदोदशकपूर्वभीमेलेमेंनाटकमंडली,कॉमेडी,धार्मिकवसांस्कृतिकनाटकोंसेलोगोंकामनोरंजनकरतेथे,लेकिनएकेडमीकीओरसेएलहूकिसदाहै,नाटकसेयुवाओंकोसिखइतिहाससेरूबरूहोनेकाअवसरमिलेगा।एसजीपीसीकेपूर्वमीतप्रधानवसदस्यबलदेवसिंहकायमपुरनेनाटकएकेडमीकेकलाकारोंवसदस्योंकोसिरोपाभेंटकरसम्मानितकिया।

सौसेअधिकनाटकोंकाकरचुकेमंचन

नाटकएकेडमीकेनिदेशकगोपालशर्मानेबतायाकिएकेडमीअबतकसामाजिकसमस्याओंवसिखइतिहासपरसौसेअधिकनाटकोंकामंचनकरचुकीहै।

नाटककेमुख्यकलाकारअमृतपालसिंहवनरेंद्रसिंहनीनाहालीवुडफिल्मबैलीऑफफ्लावरवसनऑफसरदार,मेलेकीहककीआवाज,तमिलफिल्मराजालागापोगींरेनमेंअभिनयकरचुकेहैं।नरेंद्रसिंहनेबतायाकिवेजल्दहीअमिताभबच्चनकेसाथशुबाइटफिल्ममेंनजरआएंगे।