संवादसहयोगी,स्याल्दे(रानीखेत):राज्यसरकारेंग्रामीणविकासकोकितनीसंजीदाहैंइसकासीधासाधाउदाहरणस्याल्देब्लाकमेंदेखनेकोमिलताहै।तामाढ़ौनगैरखेतरोडनिर्माणके31वर्षबादभीअस्तित्वमेंतोनहींआई,लेकिनअबलोगोंकेपैदलचलनेकेलायकभीनहींरही।उपेक्षासेआहतग्रामीणोंनेसड़ककोलोनिविसेहस्तांतरितकरप्रधानमंत्रीग्रामीणसड़कयोजनासेजोड़नेकीमांगकीहै।

मामलास्याल्देब्लाककेतामाढ़ौनगैरखेतरोडकाहै।क्षेत्रकेग्रामीणोंकोसड़कसेजोड़नेकेलिए15किमीरोडकानिर्माणवर्ष1989मेंआरंभहुआ।शासनवविभागीयहीलाहवालीकेकारणरोडआजतकपूरीनहींहोसकीहै।क्षेत्रपंचायतसदस्यसूरजसिंहमेहराकाकहनाहैकिरोडनिर्माणनहोनेसेलोगोंकोकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़रहाहै।उन्होंनेकहाकिसड़कइतनीबदहालहैकिअबवाहनतोदूरपैदलजानेवालेभीसुरक्षितनहींहैं।उन्होंनेमुख्यमंत्रीकोज्ञापनभेजसड़ककोलोनिविसेहटाकरपीएमजीएसवाईकोसौंपनेकीमांगकीहै।ज्ञापनमेंप्रधानपरथोलारोधसिंहबंगारी,रोटापानीदेवेंद्रसिंह,कहड़गांवइंदूदेवी,तामाढ़ौनपृथ्वीपालसिंह,करनसिंहवमहेंद्रसिंहआदिनेहस्ताक्षरकिएहैं।

कोटाड़गावकोसड़कसेजोड़नेकीउठीमाग

संवादसूत्र,ताड़ीखेत(रानीखेत):ब्लॉककेकोटाड़गावकेग्रामीणोंनेगावमेंसड़कसुविधाकीमागउठाईहै।कहाहैकिसड़कसुविधानहोनेसेलोगोंकोदिक्कतोंकासामनाकरनापड़रहाहै।दोटूकचेतावनीदीहैकियदिजल्दसड़कनिर्माणनहींकियागयातोआदोलनशुरुकियाजाएगा।

आजादीकेबादभीपहाड़ोंकेतमामगावसड़कसुविधासेवंचितहै।ताड़ीखेतब्लाककेकोटाड़गावकेकरीबपचाससेज्यादापरिवारभीसड़ककीआसलगाएबैठेहैं।सड़कनहोनेसेलोगोंकोआवाजाहीमेंकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़रहाहै।स्थानीयमदनसिंह,पानसिंह,दीपकमेहरा,भानुपालसिंह,जयपालसिंह,प्रकाशसिंह,भगवतसिंहआदिकाकहनाहैकिकईबारजनप्रतिनिधियोंवशासनप्रशासनसेगुहारलगाचुकेहैंमगरआजतककोईकार्रवाईनहींहोसकी।कहावैवाहिककार्यक्त्रमोंवमरीजोंकोअस्पतालपहुंचानेमेंकाफीफजीहतहोतीहै।लॉकडाउनकेदौरानप्रवासियोंनेगावसेसड़कनिर्माणकाकार्यशुरूकियापरविवादकेचलतेमामलाठंडेबस्तेमेंचलागया।ग्रामीणोंनेदोटूकचेतावनीदीहैकियदिसमयरहतेगावकोमोटरमार्गसेनहींजोड़ागयातोआदोलनशुरुकियाजाएगा।