संवादसहयोगी,पैलानी:गर्मीकेसाथहीबाधितपेयजलआपूर्तिपपरेंदाकेलोगोंकीहलकसुखारहीहै।एकओरचोकपाइपलाइनसेलोगोंकेघरोंमेंपानीनहींपहुंचरहातोवहींदूसरीओरदसदिनसेफुंकीमोटरअबतकठीकनहींकराईगई।ग्रामीणोंकाआरोपहैकिकईबारइसकीशिकायतभीअधिकारियोंकोकीगईलेकिनकोईठोसकदमनहींउठायागया।चेतावनीदीगईकिएकसप्ताहकेअंदरसमस्याकानिस्तारणनहींहुआतोआंदोलनकियाजाएगा।

पपरेंदागांवमेंबेपटरीपेयजलआपूर्तिव्यवस्थाकालोगलंबेसमयसेदंशझेलरहेहैं।कहनेकोजलसंस्थानकीपानीकीटंकीहै।मोटरफुंकजानेसेकईदिनोंतकलोगजलसंकटकासामनाकरतेरहे।चोकपाइपलाइनसमस्याबनकरखड़ीहै।गांवकेसुरेशसिंह,शैलूसिंह,फूलचंदयादवआदिनेजलसंस्थानकर्मियोंद्वाराबरतीजारहीलापरवाहीकोलेकरआक्रोशव्यक्तकियाहै।लोगोंकाकहनाहैकिचारदशकपूर्वबनीपानीकीटंकीकीपाइपलाइनेंसाफनहींकीगईंहैं।अबयहचोकहोजानेकेचलतेपवारनपुरवा,सदगुरूसदनमुहल्ला,पपरेंदाबसस्टॉपआदिमोहल्लोंमेंपानीआपूर्तिमेंबाधाआरहीहै।

हैंडपंपोंपरलगातेहैंकतार,होतीजद्दोजहद

पानीकीपूर्तिकेलिएलोगसुबहसेहीहैंडपंपोंपरलंबीकतारलगानेकोमजबूरहैं।पहलेपानीभरनेकेचक्करमेंबहसहोतीहै।गांवकेबच्चासिंह,लक्ष्मीसिंह,जनार्दनसिंहआदिकाकहनाहैकियदिएकसप्ताहकेअंदरपाइपलाइनोंकोदुरुस्तनहींकरायागयातोधरना-प्रदर्शनकोबाध्यहोंगे।मार्चमहीनेमेंहीभीषणगर्मीकेचलतेपपरेंदाकस्बेमेंपानीकीकिल्लतसेलोगबेहालहोगएहैं।इससंबंधमेंजबअवरअभियंताजलसंस्थानकोफोनलगायागयातोघंटीजातीरही।उन्होंनेरिसीवनहींकिया।