जागरणटीम,दुमका:सावनकीपहलीसोमवारीपरशहरवग्रामीणक्षेत्रकेशिवालयोंनेभक्तोंनेकोरोनानियमोंकापालनकरतेहुएबाबाकाजलाभिषेककिया।बड़ेमंदिरोंमेंलोगोंकोअंदरआनेकीअनुमतिनहींथीलेकिनछोटेमंदिरमेंलोगोंनेबाबाकास्पर्शकिया।

शहरकेशिवपहाड़मंदिरमेंसुबहसेहीलोगोंकापहुंचनाशुरूहोगयाथा।हालांकिकोरोनाकीवजहसेमुख्यमंदिरबंदथालेकिनदूसरेमंदिरमेंलोगोंनेजलाभिषेककरपूजाअर्चनाकीऔरदूरसेहीबाबाकादर्शनकिया।धर्मस्थानमंदिरमेंभीलोगोंनेमंदिरकेबाहरसेपूजाकी।पुजारीनेदरवाजेसेप्रसादआदिलेकरबाबाकोसमर्पितकिया।किसीकेलिएमंदिरकामुख्यदरवाजानहींखोलागयागया।हालांकिगिलानपाड़ामेंलोगोंकेलिएमंदिरकरदरखोलदियागयाथा।लोगोंनेयहांआरामसेबाबाकाअपनेहाथोंसेजलाभिषेककिया।रसिकपुरकेगोपालमंदिर,डंगालपाड़ाकेशिवमंदिरमेंभीलोगोंनेबाहरसेबाबाकाजलाभिषेककिया।इसदौरानशारीरिकदूरीकापालनकरायागया।कुरूवामंदिरमेंभीलोगोंनेबाबाकीपूजाअर्चनाकी।पिछलेसालकीतरहइसबारभीलोगोंनेमंदिरजानेकीबजायघरमेंबाबाकीपूजाकरनाजरूरीसमझा।इसकारणमंदिरकेआसपासलोगोंकीभीड़कमरही।

बासुकीनाथ:विश्वप्रसिद्धबाबाबासुकीनाथमंदिरकेदरवाजेस्थानीयभक्तोंसहितबाहरसेआनेवालेभक्तोंकेलिएभीबंदकरहैं।पहलीसोमवारीकोप्रखंडक्षेत्रकेशिवभक्तोंनेअपने-अपनेघरोंअथवानजदीककेशिवालयोंमेंहीपूजाअर्चनाकी।बाबादुखहरणनाथमंदिर,पांडेश्वरनाथमंदिर,नीमानाथमंदिर,योगेश्वरनाथमंदिर,जामधाराशिवमंदिर,वरदानीनाथसहितआसपासकेछोटे-बड़ेशिवालयोंमेंभक्तोंनेविधिविधानपूर्वकपूजा-अर्चनाकी।लोगोंनेघरोंमेंअथवाशिवालयोंमेंपार्थिवशिवलिगकीस्थापनाकरभीविधिवतबाबाभोलेनाथकीपूजाअर्चनाकी।बासुकीनाथमंदिरसेकरीबपांचकिलोमीटरकीदूरीपरदक्षिणीदिशामेंस्थितबाबादुखहरणनाथमंदिरमेंश्रावणमाहकीपहलीसोमवारीकोदिनभरभक्तोंकीभीड़लगीरही।भक्तोंनेबाबाकीश्रृंगारपूजा,रुद्राभिषेककराकरधार्मिकअनुष्ठानकराए।

रानीश्वर:प्रखंडकेशिवमंदिरोंमेंबाबाकीपूजाकेलिएसुबहसेहीलोगोंकीभीड़पड़ीथी।रानीश्वरनाथवटांगेश्वरनाथकेमंदिरमेंलोगोंनेविशेषपूजाकी।इसकेअलावाबिलकांदी,तांतलोई,आसनबनी,कदमा,सादीपुरसमेतरानीबहालकेशिवमंदिरमेंभीपूजाकेलिएभक्तोंकीभीड़लगीरही।