प्रदीपकुमारसिंह,फरीदकोट:स्थानीयउत्पादोंकोउनकीपहचानकेसाथअबदेशभरमेंपहुंचानेकेलिएकेंद्रवपंजाबसरकारनेमिलकरकामशुरूकरदियाहै।स्थानीयउत्पादोंकोप्रसंस्करणकरलघुउद्योगकेरूपमेंविकसितकरनेकेलिएकेंद्रसरकारकीप्रधानमंत्रीमाइक्रोफूडप्रोसेसिंगउद्योगयोजनाशुरूहोगईहै।योजनाकेतहतपंजाबकेसभीजिलोंमें167लघुउद्योगलगाएजानेहैं।पांचवर्षीयइसयोजनाकेपहलेवित्तीयवर्ष2020-21में306करोड़रुपयेखर्चकिएजाएंगे।

योजनाकोलेकरफरीदकोटमेंमहाप्रबंधकफूडप्रोसेसिंगपंजाबएग्रोकीजिलेकेअधिकारियोंव40उद्योगप्रमुखोंकेसाथबैठकहुई।बैठकमेंविभागकीअधिकारीहरमनजीतकौरनेबतायाकिविभिन्नआंकड़ोंकेजुटानेकेबादप्रदेशकेजिलोंसेउनकेप्रोडेक्टकोप्रोसेसिंगकेलिएचुनागयाहै।फरीदकोट,श्रीमुक्तसरसाहिब,मानसावएसएएसनगरकोदूधवदूधसेबनेउत्पादोंकेलघुउद्योगकेरूपमेंविकसितकरनेकेलिएचुनाहै।

फरीदकोटमेंरोजाना10.98लाखलीटरदूधकाउत्पादनहोरहा

हरमनजीतकौरनेबतायाकिफरीदकोटमेंरोजाना10.98लाखलीटरदूधकाउत्पादनहोरहाहै।जालंधरवमोगामेंआलू,फिरोजपुरमेंशिमलामिर्च,फाजिल्कामेंकिन्नू,लुधियानामेंबेकरीकेसाथअन्यजिलोंमेंकईदूसरीवस्तुओंकाउत्पादनहोरहाहै.जिसेसंगठितउद्योगकेरूपमेंविकसितकियाजानाहै।उन्होंनेबतायाकिइसकेवितरणकेलिएभीयोजनातैयारकीगईहै।जोलोगकामकरनेकेइच्छुकहै,वहविभागसेकिसीभीकार्यदिवसपरयाफिरआनलाइनपोर्टलपरसंपर्ककरसकतेहैं।योजनाकेतहतपंजाबकेसभीजिलोंमेंवहांउपजयाउत्पन्नहोनेवालीवस्तुओंकोलघुउद्योगकेरूपमेंविकसितकियाजानाहै।इसपरभारतसरकारऔरपंजाबसरकार60:40केअनुपातमेंधनराशिखर्चकरेगी।योजनाकेतहतउद्योगलागतका35फीसदयाअधिकतम10लाखरुपयेसब्सिडीकेरूपमेंप्रदानकीजाएगी।

लघुउद्योगकेलिएजिलोंकेलिएनिर्धारितकिएगएउत्पाद-

अमृतसर-आचार,मुरब्बा,

बरनाला-पोल्ट्री,मीटएंडफिश,

गुरदासपुर-गोभीऔरसहायकउत्पाद,

होशियारपुर-गुड़औरसहायकउत्पाद,

एसबीएसनगर-हरीमटर,

श्रीमुक्तसरसाहिब-दूधऔरदूधकेउत्पाद,

मानसा-दूधऔरदूधकेउत्पाद,

फतेहगढ़साहिब-गुड़,

एसएएसनगर-दूधऔरदूधकेउत्पाद,

फाजिल्का-किन्नू,

फरीदकोट-दूधऔरदूधकेउत्पाद,

तरनतारन-हरीमटर,

लुधियाना-बेकरीउत्पाद,