उत्‍तरप्रदेशकेपूर्वमुख्यमंत्रीऔरराजस्थानतथाहिमाचलप्रदेशकेपूर्वराज्यपालकल्याणसिंह(KalyanSingh)केपार्थिवशरीरकासोमवारकोबुलंदशहरजिलेकेनरौरामेंगंगानदीकेतटपरपूरेराजकीयसम्मानकेसाथअंतिमसंस्कारकियागया.कल्याणसिंहकेपुत्रऔरएटासेभाजपासांसदराजवीरसिंहने‘जयश्रीराम’और‘कल्याणसिंहअमररहे’केनारोंकेबीचमुखाग्निदी.कल्याणसिंहकेपौत्रराज्यमंत्रीसंदीपसिंहभीमुखाग्निप्रक्रियामेंशामिलहुए.

कल्‍याणसिंहकापार्थिवशरीरदोपहरबादअलीगढ़केअतरौलीस्थितलोकनिर्माणविभागकेअतिथिगृहसेएकलंबेकाफिलेकेसाथनरौरापहुंचा.इसकेपहलेकेंद्रीयगृहमंत्रीअमितशाहनेसोमवारकोअलीगढ़केअतरौलीपहुंचकरउत्तरप्रदेशकेपूर्वमुख्यमंत्रीऔरराममंदिरआंदोलनकेप्रमुखनेताओंमेंशुमारकिएजानेवालेकल्याणसिंहकेअंतिमदर्शनकरउन्हेंश्रद्धांजलिअर्पितकीऔरकहाकिउनकेनिधनसेदबे,कुचलेऔरपिछड़ोंनेअपनाएकहितचिंतकगंवायाहै.

कईबड़ेBJPनेताहुएशामिल

नरौराघाटपरदेशकेरक्षामंत्रीराजनाथसिंह,केंद्रीयमंत्रीस्मृतिईरानी,मध्यप्रदेशकीपूर्वमुख्यमंत्रीउमाभारती,उत्तराखंडकेमुख्यमंत्रीपुष्करसिंहधामी,उत्तराखंडकेप्रदेशभाजपाअध्यक्षमदनकौशिकऔरकेंद्रीयराज्यमंत्रीअजयभट्टसमेतउत्तराखंडकेकईप्रमुखनेताओंनेकल्याणसिंहकोश्रद्धासुमनअर्पितकरअंतिमविदाईदी.उत्तरप्रदेशकेमुख्‍यमंत्रीयोगीआदित्‍यनाथऔरभाजपाकेप्रदेशअध्यक्षस्वतंत्रदेवसिंह,उपमुख्यमंत्रीकेशवप्रसादमौर्यसमेतराज्यकेकईप्रमुखनेताशवयात्राकेसाथलगातारबनेरहे.

राष्ट्रपतिरामनाथकोविंदकीओरसेराजनाथसिंह,उपराष्ट्रपतिकीओरसेस्मृतिईरानीऔरप्रदेशकीराज्यपालकीओरसेमुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेपुष्पचक्रअर्पितकिया.

शनिवारकोहुआथानिधन

उत्तरप्रदेशकेपूर्वमुख्यमंत्रीऔरराजस्थानकेपूर्वराज्यपालकल्याणसिंहकाशनिवारकीरातसवानौबजेलखनऊस्थितएसजीपीजीआईमेंनिधनहोगयाथा.वह89वर्षकेथेऔरपिछलेकुछसमयसेबीमारथे.

अमितशाहनेदीश्रद्धांजलि

इसकेपहलेकेंद्रीयगृहमंत्रीअमितशाहआजअलीगढ़केअतरौलीस्थितलोकनिर्माणविभागकेअतिथिगृहमेंपहुंचेजहांकल्याणकापार्थिवशरीररखागयाथा.शाहनेउनकेअंतिमदर्शनकरउन्हेंश्रद्धांजलिदी.

कल्‍याणसिंहकोश्रद्धांजलिअर्पितकरतेहुएशाहनेकहा,‘‘आजमैंकल्‍याणसिंहकेअंतिमदर्शनकेलिएआयाहूं.कल्‍याणसिंहकाइसदुनियासेजानाभाजपाकेलिएबहुतबड़ीक्षतिहै.’’

उन्होंनेकहा,‘‘उनके(कल्याण)जानेकेसाथहीभाजपानेअपनाएकदिग्गजऔरहमेशासंघर्षरतरहनेवालानेताखोयाहै.देशभरकेदबेकुचलेऔरपिछड़ोंतथाविशेषकरउत्तरप्रदेशकेदबेकुचलेपिछड़ोंनेअपनाएकहितचिंतकगंवायाहै.’केंद्रीयगृहमंत्रीनेकहा,‘‘रामजन्मभूमिआंदोलनकेकल्‍याणसिंहबड़ेनेतारहेऔररामजन्मभूमिआंदोलनकेलिएसत्तात्‍यागकरनेमेंतनिकभरभीउन्होंनेनहींसोचा.’’

पुरानीस्मृतियोंकोताजाकरतेहुएशाहनेकहा,‘’जबरामजन्मभूमिकाशिलान्यासहुआतोउसीदिनबाबूजीसेबातहुईतोबड़ेहर्षऔरसंतोषसेउन्होंनेबतायाकिआजमेरेजीवनकालक्ष्यपूराहुआ.उनकापूराजीवनविकासऔरउप्रकेलोगोंकोलिएसमर्पितरहा.उत्तरप्रदेशकोअच्‍छाप्रदेशबनानेकेलिएवहकार्यरतरहे.’’

BJPकार्यकर्ताओंकेलिएप्रेरणा

उन्होंनेकहाकिगरीबतबकेसेउठकरइतनाबड़ानेताबनना,विचारधाराकेलिएसंघर्षकरना,समाजकेलिएसमर्पितरहना,यहसबहमसबभाजपाकार्यकर्ताओंकेलिएप्रेरणाकीचीजेंरहेंगी.उन्होंनेकहा,‘’भाजपाकेअंदरएकबड़ीरिक्तताबनगईहैऔरइसेभरपानालंबेसमयतकमुश्किलहोगा.’’

शाहनेकहा,‘’काफीसमयसेसक्रियराजनीतिमेंनरहतेहुएभीजिसप्रकारजनसैलाबबाबूजीकोश्रद्धांजलिदेनेआया,विशेषकरयुवाओंकोदेखरहाहूं,वहयहीसाबितकरताहैकिउप्रकेसार्वजनिकजीवनपरउन्होंनेएकगहरीछापछोड़ीहै.हमहृदयसेगहरीश्रद्धांजलिदेतेहैंऔरवादाकरतेहैंगरीबों,पिछड़ोंऔरदबेकुचलोंकेलिएसंघर्षरतरहेंगे,इतनाहीकहसकताहूं.’’

राममंदिरआंदोलनकेप्रमुखनेताथाकल्याणसिंह

गौरतलबहैकिकल्याणसिंहराममंदिरआंदोलनकेप्रमुखनेताओंमेंशुमारथेऔरछहदिसंबर1992कोअयोध्यास्थितविवादितढांचागिरायेजानेकेवक्तउत्तरप्रदेशकेमुख्यमंत्रीथे.इसघटनाकेबादसिंहनेमुख्यमंत्रीपदसेइस्तीफादेदियाथा.

सिंहकोपिछलीचारजुलाईकोसंक्रमणऔरस्वास्थ्यसंबंधीकुछअन्यसमस्याएंहोनेपरएसजीपीजीआईकेगहनचिकित्साकक्षमेंभर्तीकरायागयाथा.उनकेशरीरकेकईअंगोंनेकामकरनाबंदकरदियाथाऔरशनिवाररातउनकानिधनहोगया.

यहभीपढ़ें-आखिरक्योंतिरंगेमेंलिपटेकल्याणसिंहकेशवपररखागया‘बीजेपीकाझंडा’,जानेंक्याकहतेहैंभारतीयध्वजकेनियम

यहभीपढ़ें-कल्याणसिंहसेजुड़ीचारघटनाएं:मुश्किलेंतोकाफीबढ़ींमगरजमकरजूझेऔरहासिलकीथीकामयाबी