संस,मानसा:भारतीयकिसानयूनियनलखोवालकीजिलाइकाईकीबैठकगुरुघरकीसिंहसभामानसामेंजिलाध्यक्षनिर्मलसिंहझडूकेकीअध्यक्षतामेंहुई।जिसमेंकिसानमसलोंपरधानवनरमेकीखरीद,डीजल,पेट्रोलकीकीमतोंमेंकीगईबढ़ोतरीपरविचारकियागया।इसअवसरपरजिलाध्यक्षनिर्मलसिंहझडूकेवजिलाप्रेससचिवदर्शनसिंहजटाणानेकहाकिकिसानोंकोसावनकीफसलोंकासमर्थनमुल्यकेमुताबिकभावनहींमिलरहा,खेतीप्रयोगकीवस्तुएं,खाद्य,कीटनाशकदवाएं,फसलोंकेभावडॉ.स्वामीनाथनकीरिपोर्टकेमुताबिकदीजाए,जबकिकर्जमाफीकीजाए।पंजाबकीकिसानीवजवानीकोगैरनशोंसेबचानेकेलिएखसखसकीखेतीकीछूटदीजाए।उन्होंनेमागकीकिधानकीनमीं17प्रतिशतसेबढ़ाकर24कीजाए।क्योंकिमौसममेंठंडहोनेकेकारणनमीकमनहींहोरही।सरकारकीगलतनीतियोंकेकारणधानकाझाड़6-7क्विंटलप्रतिकिलोकमहै।500रुपयेप्रतिक्विंटलबोनसदियाजाए।परालीमेंआगलगानेवालेकिसानोंपरजोपर्चेदर्जकिएहैवेरद्किएजाए।उन्होंनेकहाकिअगरसरकारनेपेट्रोल-डीजलकीकीमतोंमेंकीगईबढ़ोतरीकोवापिसनहींलियातोकिसानयूनियनवअन्यजत्थेबंदियोंकोसाथलेकरपंजाबकेसभीतेलडिपोकाघेरावकरेगी।इसमौकेपरअन्यकेअलावाजिलाखजाचीगुरचरणसिंहरल्ला,महासचिवलाभसिंहबरनाला,दर्शनसिंहजटाणा,काकासिंहमानसा,पिर्थीसिंह,जसवंतसिंह,बचितरसिंह,घुकरदास,गुरदाससिंहमाखा,गुरजंटसिंहझूनीर,लाभसिंह,गुरनामसिंह,तोतासिंहहीरेके,जगदेवसिंहमोजिया,भोलासिंह,तारासिंह,हरबंससिंह,गुरचरणसिंह,‌र्स्वणसिंहवभूरासिंहमाखाआदिहाजिरथे।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!