संस,बठिडा:साहित्यकसिरजनामंचकीमीटिगटीचरहोममेंप्रधानसुरिदरप्रीतघणियाकीअगुआईमेंकीगई।इसमीटिगमेंसभाकेमेंबरोंकेअलावाप्रवासीलेखकवशब्दतृजणकेसंपादकमंगतकुलजिदभीशामिलहुए।

मीटिगकीशुरूआतसुरिदरप्रीतघणियाकेस्वागतीशब्दोंसेहुई।रचनाओंकेदौरमेंकवित्रीराजनदीपकौरमानकीतरफसेमिनीकहानीदीवियांवालीमाई,अमरजीतकौरहरड़कीतरफसेमिन्नीकहानियांभांडा,सुरिदरप्रीतघणियाकीतरफसेनईगजल,निरंजनप्रेमीदोरुबाइया,सुखदर्शनगर्गकीतरफसेदोरुबाइया,जगमेलसिंहजठोलकीतरफसेमिन्नीकहानीमोबाइलफोन,जसंवतजस,बठिडाकीतरफसेगजल,मंगलकुलजिदकीतरफसेप्रवासकेसाहित्यकअनुभवदोकावि,हासरचनाएंखतरनाकअक्षरपररिकशा,दविसिद्धूकीतरफसेचारकविताएंखूबसूरतऔरत,संजीवनीबूटी,करिश्मावखड़ाकसुनाईगई।इसकेअलावापंजाबीलिखाईसभासियाटलकेउपप्रधानबलिहारसिंहलेहलनेवीडियोकालकेजरिएमिन्नीकहानीओगाई।इसकेअलावाइंगलेंडकेदौरेपरगएसभाकेसरप्रस्तडा.अजीतपालसिंहकीतरफसेभेजेगएसफरनामेकेएकअंशकोसुरिदरप्रीतघणियानेपड़करसुनाया।पढ़ीगईरचनाओंकेऊपरमंचकेसरप्रस्तजगमेलसिंहजठौलनेअपनीकीमतीविचारपेशकिए।

मंचकीतरफसेबलिहारसिंहलेहलपरलिखेगएअमरजीतसिंहलितरोंकेगाएगीतअनजन्मीधीकीपुकारकापोस्टरभीरीलिजकियागया।इसदौरानसीबीएसइस्कूलप्रशासनकीतरफसेपंजाबीभाषाकोमाइनरविषयोंमेंरखनेवकेद्रसरकारकीतरफसेसुंयक्तकिसानमोर्चोकोविभिन्नसाजिशोंतहतलगानेवमसलेकोहलकरनेकेशब्दोंकीनिदाकीगई।इसकेअलावापंजाबसरकारकीतरफसेकालेजोंवलेक्चररोंकीभर्तीकरतेसमयऐसीनीतिबनानेकीमांगकीगईकिपहलेहीकालेजोंमें15-15सालसेगेस्टफैकल्टीकेतौरपरकामकरनेवालोंकानुकसाननहो।