बानो:केतुंगाधामस्थितशिवमंदिरकोपर्यटनस्थलकेरूपमेंविकसितकियाजाएगा।धामपरिसरमेंअवस्थितजीर्णशीर्णबौद्धप्रतिमाकेसरंक्षणकेलिएहरसंभवप्रयासकियाजाएगा।उक्तबातेंडीसीजटाशंकरचौधरीनेबानोप्रखंडकेकेतुंगाशिवमंदिरपरिसरमेआयोजितएककार्यक्रममेंलोगोंकोसंबोधितकरतेहुएकही।उन्होंनेकहाकिकेतुंगाधामकोजोड़नेवालीपथकोदुरुस्तकियाजाएगा।वहींमंदिरतकपहुंचनेकेलिएमार्गदर्शिकापट्टीलगायाजाएगा,ताकिमंदिरतकपहुंचनेकेलिएलोगोंसुविधामिलसके।इससेपूर्वडीसीनेकेतुंगाधाममंदिरमेंपूजा-अर्चनाकी।वहींसम्राटअशोककालमेंस्थापितबौद्धप्रतिमाकाअवलोकनकिया।विहिपबानोकेअध्यक्षविकाससाहुनेबुकेदेकरडीसीकोसम्मानितकियातथाविभिन्नसमस्यासेअवगतकराया।इसअवसरपर,विल्लुअग्रवाल,मनोजगोस्वामी,रुपेश¨सह,रूपेशबड़ाईक,महेश¨सह,दीपकसाहुकेअन्यलोगउपस्थितथे।