ज्वालामुखी,प्रवीणकुमारशर्मा।मातावैष्णोंदेवीकीतर्जपरहिमाचलप्रदेशकेभीप्रमुखमंदिरोंवशक्तिपीठोंकोखोलनेकीपैरवीहोनेलगीहै।मंदिरोंपरआश्रितपुजारीवव्यापारीवर्गतबसेमंदिरोंकेखुलनेकीआसलगाएबैठाहैजबसेमॉल,दुकानेंतथाकईबड़ेमंदिरोंकोकेंद्रसरकारकीगाडलाइनकेतहतखोलदियागयाहै।देशकी51शक्तिपीठोंमेंशुमारमांज्वालामुखीकेपुजारीवव्यापारीवर्गकोपांचमहीनेसेमंदिरोंकेकपाटबंदहोनेसेउन्हें परिवारकापालनकरनामुश्किलहोगया।

मंदिर मेंपीढि़योंसेपूजाअर्चनाकररहेज्वालामुखीके160पुजारीपरिवारआर्थिकतंगीकेकारण सरकारसेपिछलेदोमहीनेसेगुजारिशकरतेआरहेहैंकियातोमंदिरों केकपाटखोलेजाएंयाउन्हेंआर्थिकमदददीजाए।पुजारीवर्गनेमंदिरन्यासकीमहत्वपूर्णबैठकमेंभीप्रस्तावरखाथाकिसरकारहरमहीनेपुजारीपरिवारोंको 5000रुपयेकीआर्थिकमददबिनाकिसीब्याजकेदे।जिसेमंदिर खुलनेपरउनकीबारीमेंमिलनेवालेराजस्वसेकिश्तोंमेंकाटलियाजाए।मंदिरबंद होनेसेसरकारीराजस्वकोभीखासानुकसानहोरहा।हरमहीनेमंदिरकर्मचारियोंपरही35लाखकेकरीब काबजटवेतनपरखर्चहोताहै।

जबकिइसवक्तआमदनलगभगशून्यहीहै।औसतन5000केकरीबश्रद्धालुहरदिनयहांशीशनवानेआतेथे।जबकिविशेषउत्सवोंकेअवसरपरहररोज20से30हजारश्रद्धालुभीआतेरहेहैं।उधरव्यापारीवर्ग केभीहालातबिगड़तेजारहेहैं।भोगप्रसाद,होटल,ढावे,रेहड़ीफड़ीवाले200केकरीबलोगबेरोजगारहोगएहैं।तमाममंदिररोडपूरीतरहबंद हैतथाहरतरफसन्नाटाछायाहुआहै।

देशभरमेंकईमंदिरवमॉलखोलदिए गएहैं।जहांजहांयहखुलेहैंव्यवस्थापैरोंपरआरहीहै।ज्वालामुखीमंदिर केसाथप्रदेशभरकेशक्तिपीठोंकोखोलनेकीइजाजतदेनीचाहिए।सरकारसंवेदनशीलतासेनिर्णयले।

प्रशांतशर्मा,पुजारीज्वालामुखीमंदिर।

मंदिरोंकेबंद रहनेसेपूराधार्मिकपर्यटनउद्योग तबाहीके कगारपरहै।जहांसरकारीराजस्वकानुकसानहैवहींकईपरिवारोंकीरोजीरोटीपरबातआगईहै।अबमंदिर खुलनेचाहिए।

ऋषिशर्मापुजारी।

जबतकमंदिरबंदहैंधार्मिकसथानों मेंव्यापारीउभरनहींसकते।तमामदुकानदारश्रद्धालुओंपरआश्रितहैं।श्रद्धालुआयेंगेतभीकारोबारपटरीपरआसकताहै।जरूरीहैसरकारलोगोंकीहालतजाने।

सोनूशर्मा,दुकानदार

सरकारनियमोंकेतहतमंदिर खोलनेकीहामीभरे।ऐसानहींहुआतोसैंकड़ोंपरिवारोंकेहालातरोजगारकेबिनाखराबहोजाएंगे। जिसजगहरोजानाहजारोंलोगोंकाहजूमरहताथा।वहांखामोशीहै।

संजीवभाटिया,दुकानदार।

मंदिरोंकोखोलनेकेलिएप्रशासनकोसरकारीआदेशोंकाइंतजारहै।हमनेअपनेस्तरपरतैयारीबहुतपहलेकीकररखीहै।आदेशआतेहैंतभीमंदिरोंकोखोलनेकीघोषणाहोसकतीहै।यहसत्यहैकिमंदिरोंपरआश्रितलोगोंकीमुश्किलेंबढ़ीहैं।लेकिनसरकारकेआदेशोंकाइंतजारकरनाहीहोगा।

राकेशप्रजापति,उपायुक्तकांगड़ा।