लखनऊ,जितेंद्रउपाध्याय। उल्लासकेपर्वक्रिसमसकेत्योहारपरसेंटाखुशियोंकाउपहारदेतेहैंतोदूसरीओरकुछलोगसेवाकाउपहारदेकरइसखुशीकेपर्वमें,खुदकोशरीककरतेहैं।उन्हींकीश्रेणीमेंपुरानाहैदराबादनिवासीएमपीसिंहकाभीनामआताहै।मैकेनिकवब्रासकीपालिशकरनेकाकामकरनेवालेएमपीसिंहक्रिसमसआनेसेदोसप्ताहपहलेसेहीपालिशकीमशीनलेकरगिरजाघरोंकीखाकछाननाशुरूकरदेतेहैं।

ब्रासकेबनेपूजाकेबर्तनोंकीपालिशकरउन्हेंचमकानेकाकामशुरूकरदेतेहैं।इसकेएवजमेंवहमेहनतानातोछोड़िएआनेजानेकाकिरायातकनहींलेतेहैं।करीब53वर्षीयएमपीसिंहनेबतायाकिकरीब20सालसेवहसेवाकररहेहैं।एकताऔरभाईचारेकीमिसालबनेएमपीसिंहबतातेहैंकिईश्वरएकहै।बसधर्मकेनामपरउनकानामलेनेकारास्ताअलग-अलगबनादियागयाहै।15दिनप्रभुयीशुकीसेवामेंलगानेसेमुझेसंतुष्टिमिलतीहै।इसबारछोटेआयोजनहोनेसेकईचर्चकेफादरनेउन्हेंआनेसेरोकदिया।कैथेड्रलकेफादरडा.डोनाल्डडिसूजानेबतायाकिएमपीसिंहकासेवाभावलोगोंकोप्रेरणादेनेवालाहै।बिनाबुलाएयेहरसालआतेहैं।

ऐसानि:स्वार्थसेवाकाभावलोगोंमेंकमहीमिलताहै।एपीफेनीचर्चकेफादरईएफबख्शनेबतायाकिसमाजमेंएकताऔरभाईचारेकोमजबूतकरनेकईउदाहरणमिलतेहैं,उन्हींमेंसेएकएमपीसिंहभीहैं।बिनाभेदभावकेहरसालपूजाकेबर्तनोंकीसफाईकरनेआजातेहैं।कोरोनासंक्रमणकेबावजूदवहइसकार्यमेंलगेरहे।घमंडसेदूरऐसेलोगोंसेहीसमाजमजबूतहोताहै।इपीफेनीमेंबुधवारकोपूजामेंकामआनेवालेसामानोंकीपालिशकेबादगुरुवारकोकैथेड्रलमेंपूजाकेबर्तनोंकीपालिशकरेंगे।