नैमिषारण्य(सीतापुर):बैसाखकीपूर्णिमापरशनिवारकोहजारोंश्रद्धालुओंनेनैमिषारण्यपहुंचकरचक्रतीर्थवआदिगंगागोमतीनदीमेंस्नानकरविभिन्नधार्मिकस्थलोंकेदर्शनपूजनकिए।

बैसाखमाहकीपूर्णिमाकोअत्यंतपवित्रमानागयाहै।इसदिनतीर्थवनदीमेंस्नानकीपरंपरारहीहै।बुद्धपूर्णिमाभीआजहीमनाईगई।भगवानबुद्धविष्णुकेनौवेंअवतारमानेगएहैं।यहांपहुंचेश्रद्धालुओंनेचक्रतीर्थ,गोमतीकेराजघाट,देवदेवेश्वरघाट,रुद्रावर्तआदिस्थानोंपरस्नानकियाऔरपुरोहितोंकोदानदक्षिणादेकरआशीर्वादलिया।इसकेबादललितादेवीमंदिरमेंमाताकोछत्र,चूनर,प्रसादचढ़ाकरपरिवारकेकल्याणकीकामनाकी।श्रद्धालुओंनेव्यासगद्दी,सूतगद्दी,हनुमानगढ़ी,कालीपीठ,बालाजी,नारदानंदआश्रम,देवपुरी,सत्यनारायणमंदिर,पहलाआश्रमआदिमेंदर्शनकिए।ललितादेवीमंदिरपरिसरमेंभगवानसत्यनारायणकीपरंपराअनुसारकथासुनी।नगरमेंविभिन्नआश्रमोंमेंभंडारोंमेंसाधु,संतोंवश्रद्धालुओंनेप्रसादग्रहणकिया।अन्नपूर्णामंदिरसंतसेवाआश्रममेंबाबारामभजनदासनेभंडाराकराया।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप