संसू.रानीगंज(अररिया):नीगंजप्रखंडक्षेत्रकेबरबन्नापंचायतकेदीवानटोलास्थितराधाकृष्णठाकुरबाड़ीसहसंतमतसत्संगमंदिरकेसाधकब्रह्मचारीपन्नाचन्ददास(60)काशुक्रवारकोअसामयिकनिधनहोगया।वेभरगामाप्रखंडक्षेत्रकेमनुलहपट्टीपंचायतकेभरनागांवकेनिवासीथे।पन्नाचन्ददासकोसद्गुरुमहर्षिमेंहीपरमहंसजीमहाराजकेशिष्यब्रह्मलीनशिवचरणदासनेदसवर्षकीउम्रमेंहीभरनासेदिवानटोलाराधाकृष्णठाकुरबाड़ीलायेथे।उसीसमयसेपन्नाचन्ददासइसआश्रममेंरहकरसत्संगभजन,ध्यानसाधनाकरतेरहतेथे।वहकाफीमृदुभाषीतथाशांतिप्रियथेतथाबालब्रह्मचारीथे।आश्रममेंआयेआगंतुकोंकोकाफीश्रद्धाकेसाथसेवाकरतेथे।तथासभीलोगोंकोसत्संगकरनेकीसलाहदेतेथे।उनकेअसामयिकनिधनकीखबरसुनतेहीलोगोंकीभीड़आश्रममेंजमाहोगया।सभीकाफीमर्माहतदिखरहेथे।लोगोंनेबतायाकिबाबाकिसीकेभीसाथभेदभावनहींकरतेथे।शुक्रवारकीसुबहमेंबाबाकोकुछशरीरिकपरेशानीहोनेलगेतोकुछदेरबादएकआटोमंगाकरअस्पतालजारहेथेकिआश्रमसेनिकलतेहीउनकीमौतहोगई।मौकेपरदिलीपकुमारसिंह,कृष्णानंदसिंह,चंद्रकिशोरसिंह,डॉविरकिशोरसिंह,हरिबल्लभसिंह,प्रोहजारीप्रसादसिंह,डॉअशोककुमारआलोक,प्रोनवलकिशोरसिंह,विनोदकुमारसिंह,सतीशकुमारयादव,नीरजकुमारमंटूआदिहजारोंलोगउपस्थितथे।