नयीदिल्ली,30अक्टूबर:भाषा:अयोध्यामेंराममंदिरकेनिर्माणकेलियेकानूनबनानेसंबंधीअपनेअभियानकेतहतविश्वहिन्दूपरिषद(विहिप)प्रधानमंत्रीनरेन्द्रमोदी,कांग्रेसअध्यक्षराहुलगांधीएवंकांग्रेसकीवरिष्ठनेतासोनियागांधीसेमिलेगा।विहिपकेअंतरराष्ट्रीयकार्याध्यक्षआलोककुमारने‘‘भाषा’’सेकहाकिनवंबरमाहमेंपरिषददेशकेसभीक्षेत्रोंकेसांसदोंसेभेंटकरेगीऔरउनसेकहेगीकिउनकेमतदाताअयोध्यामेंराममंदिरकानिर्माणचाहतेहैं,ऐसेमेंवेकानूनबनानेमेंसहयोगकरें।यहपूछेजानेपरकिक्यावेप्रधानमंत्रीनरेन्द्रमोदी,राहुलगांधी,सोनियागांधीसेभीमिलेंगे,विहिपकेकार्याध्यक्षनेकहा,‘‘हमउनसेआग्रहकरेंगेऔरवेसमयदेतेहैंतबउनसेमुलाकातकरेंगे।हमसभीसांसदोंसेमिलेंगे।’’उन्होंनेजोरदियाकिदेशकाजनमानसराममंदिरकेनिर्माणकेपक्षमेंहै,ऐसेमेंचाहेकांग्रेसहो,तृणमूलकांग्रेसहोयाकोईअन्यदलहो..उनकेलियेइसकाविरोधकरनाकठिनहोगा।विहिपकेएकअन्यपदाधिकारीनेबतायाकिपरिषदकासभीदलोंकेसांसदोंसेमिलनेकाकार्यक्रमहै,चाहेवेकिसीभीदलकेहों।उन्होंनेबतायाकिसंसदीयक्षेत्रमेंसभाओंकाआयोजनकियाजायेगाऔरएकशिष्टमंडलउसक्षेत्रकेसांसदसेमिलेगाजिसमेंविहिप,संतसमाजएवंस्थानीयलोगशामिलहोंगे।विहिपनेइसकेसाथजोरदियाकिसरकारकोसोमनाथमंदिरकीतर्जपरयासंबंधितभूमिकाअधिग्रहणकरनेकेलियेकानूनबनाकरअयोध्यामेंराममंदिरकेनिर्माणकामार्गप्रशस्तकरनाचाहिए।कुमारनेकहा,‘‘हमारेसमक्षसोमनाथमंदिरकेनिर्माणकाउदाहरणहै।सोमनाथमंदिरकोमध्यकालमेंआक्रमणकारियोंनेकईबारतोड़ाथा।ऐसेमेंदेशकीआजादीकेबादखंडहरपरमंदिरकेनिर्माणकेलियेकानूनबनायागयाथा।’’उन्होंनेकहाकिसोमनाथमंदिरकेनिर्माणकोप्रायोजितभारतसरकारनेकियाथालेकिनपैसाजनतानेजुटायाथा।इसकेलियेएकट्रस्टकागठनकियागयाथाजिसेनिर्माण,रखरखावआदिकाकार्यसौंपागयाथा।कुमारनेकहाकिसरकारकानूनबनाकरसंबंधितभूमिकाअधिग्रहणभीकरसकतीहैऔरइसभूमिकोउससमितिकोसौंपसकतीहैजोइसविषयऔरआंदोलनकोआगेबढ़ारहीहैऔरनेतृत्वप्रदानकररहीहै।विहिपकेकार्याध्यक्षनेकहाकिइनदोनोंहीस्थितियोंमेंकानूनलानेकीजरूरतहोगी।विहिपकारूखस्पष्टहैकिइसमुद्देपरअदालतकेफैसलेकीअनंतकालतकप्रतीक्षानहींकीजासकती।ऐसेमेंकानूनलानेकीजरूरतहै।वहीं,वरिष्ठअधिवक्ताएवंकांग्रेसनेताकपिलसिब्बलनेइसबारेमेंपूछेजानेपरकहा,‘‘यहसबराजनीतिकफायदेकेलियेकियाजारहाहै।अगरवेकानूनबनानाचाहतेहैंतोकिसनेरोकाहै।क्यावेचारसालसेसोरहेथे?’’उन्होंनेकहाकिअबअदालतहीतयकरेगीकिअयोध्यामामलेकीसुनवाईकबहोगी,यहकोईदूसरातयनहींकरसकताहै।वहीं,राममंदिरकेमुद्देपरअखिलभारतीयसंतसमिति3-4नवंबरकोदिल्लीमेंएकबैठककररहीहै।इसमेंदेशकेविभिन्नक्षेत्रोंसेसंतराममंदिरकेमुद्देपरआगेकीरणनीतिपरविचारकरेंगे।बहरहाल,मुम्बईकेपासठाणेमेंराष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघ(आरएसएस)केअखिलभारतीयकार्यकारीमंडलकीतीनदिवसीयबैठकहोरहीहै।इसबैठकमेंप्रतिनिधिसभाकीबैठकमेंबनाईगईयोजनाओंकीसमीक्षाकेसाथसाथदेशकीवर्तमानस्थितिएवंसमसामयिकविषयोंपरचर्चाहोगी।संघकाकहनाहैकिइसमुद्देपरसर्वोच्चन्यायालयशीघ्रनिर्णयकरेऔरअगरकुछकठिनाईहैतोसरकारकानूनबनाकरमंदिरकेनिर्माणकामार्गप्रशस्तकरे।