अयोध्या.लंबीकानूनीलड़ाईकेबादनौनवंबर2019कोश्रीरामजन्मभूमिविवादकाहलनिकलाथा।सुप्रीमकोर्टनेराममंदिरनिर्माणकेलिएकेंद्रसरकारकोतीनमाहकावक्तदियाथा,जोनौफरवरी2020कोपूराहोजाएगा।विहिपनएट्रस्टकेघोषणाकाइंतजारकररहीहै।इसकेबादवहअपनीनईभूमिकातयकरेगी।विहिपप्रवक्ताशरदशर्मानेयहभीकहा-1989मेंजोराममंदिरकामॉडलबनाथा,उसमेंअबकोईपरिवर्तनहोनेवालानहींहै।

येभीपढ़े

अयोध्याकेराममंदिरमेंराजस्थानकीगुलाबीझलक;मंदिरकीशानबनेगापिंकस्टोन

प्रयागराजमेंतयहोगीभूमिका

विहिपप्रवक्ताशरदशर्मानेकहा-राममंदिरकेपक्षमेंसुप्रीमकोर्टकेफैसलेकेबादअबविहिपकेंद्रसरकारकेनएट्रस्टकीघोषणाकाइंतजारकररहीहै।उसीकेबादवहअपनीनईभूमिकातयकरेगी।कहाकिप्रयागराजमेंहोनेवालीविहिपकेंद्रीयमार्गदर्शकमंडलकीबैठकमेंसंतोंकेनिर्देशपरअगलाकार्यक्रमतयहोगा।विहिपकेअंतरराष्ट्रीयउपाध्यक्षचंपतरायवआरएसएसकेसहसरसंघकार्यवाहडॉ.कृष्णगोपालनेहालहीमेंअपनेअयोध्यादौरेमेंस्पष्टकरदियाहैकिश्रीरामजन्मभूमिपरमंदिरनिर्माणकामार्गअबप्रशस्तहोगया।बाधाएंसमाप्तहै।अबनिर्माणकीप्रक्रियाशुरूहोगी।

उन्होंनेकहा-यहबातभीसाफहैकि1989मेंराममंदिरकाजोमाडलबना,वहसंतोंनेपूजितकरकरोड़ोंरामभक्तोंकेघरपहुंचाया।वहलोगोंकेमनमेंहै।इसपररामभक्तोंकीमुहरलगचुकीहै।इसमेंकिसीतरहकापरिवर्तनअबहोनेवालानहींहै।शर्मानेबतायाकिदोनोंशीर्षपदाधिकारियोंनेतीनमंजिलकेमाडलकीखबरकोखारिजकरतेहुएसाफकियाऐसासुझावदेनेवालोंको1989केपहलेसुझावरखनाथा,जबमंदिरआंदोलनकेदौरानराममंदिरकामॉडलबनरहाथा।शर्मानेकहाकिजोढांचा6दिसम्बरकोसमाप्तहुआ,वहमंदिरकाथाऔरमंदिरकेमलबेकोमांगनेवालेइससत्यकोअबस्वीकारकरलें।

दर्शनकरनेवालोंकोमिलेसुविधा

प्रवक्तानेकहाकिमंदिरनिर्माणकेसाथहीदर्शनकरनेवालेश्रद्धालुओंकोहरप्रकारकीसुविधाउपलब्धहोनीचाहिए।सभीचाहतेहैंकिअयोध्याकासर्वांगीणविकासहो,जिससेश्रद्धालुगणजोयहांरामललाकादर्शनकरनेआएंउन्हेंयहांकिसीतरहकाकष्टनउठानापड़े।

मस्जिदनिर्माणकेलिएसमयतयनहीं

शरदशर्मानेकहाकिसुप्रीमकोर्टकेफैसलेमेंमस्जिदनिर्माणकेलिएकोईसमयनहींदियागयाहै।बसइतनाकहाहैकिसरकारमुस्लिमपक्षकोभूमिउपलब्धकरवाए।ऐसेमेंसरकारकेऊपरहैकिवहसुन्नीसेंट्रलवक्फबोर्डकोजमीनकहांऔरकबउपलब्धकरवातीहै।विहिपकीमस्जिदकोलेकरशर्तपहलेसेतयहैं।