नयीदिल्ली,10दिसंबर(भाषा)सरकारनेअयोध्यामेंराममंदिरकेनिर्माणकेबादपयर्टनबढ़नेकेसवालपरमंगलवारकोसंसदमेंकुछभीकहनेसेयहकहकरइनकारकरदियाकिइसबारेमेंकोई‘‘अध्ययनएवंआंकड़े’’नहींहैं।संस्कृतिएवंपर्यटनमंत्रीप्रह्लादसिंहपटेलनेराज्यसभाकोएकप्रश्नकेलिखितउत्तरमेंयहजानकारीदी।उनसेयहपूछागयाथाकिअयोध्यामेंराममंदिरकेनिर्माणसेपर्यटनमेंक्याकईगुनावृद्धिहोसकतीहै?पटेलनेकहा,‘‘इससंबंधमेंकिसीअध्ययनएवंआंकड़ोंकेअभावमेंकुछनहींकहाजासकता।’’उल्लेखनीयहैकिरामजन्मभूमिस्वामित्वमुद्देपरदशकोंतकचलेविवादकापटाक्षेपकरतेहुएउच्चतमन्यायालयनेनौनवंबरकोअपनानिर्णयसुनायाथाजिससेअयोध्यामेंराममंदिरकेनिर्माणकामार्गप्रश्स्तहोगया।पटेलनेबताया,‘‘वर्ष2017-18में133.31करोड़रूपयेकीलागतसेस्वदेशदर्शनयोजनाकेरामायणपरिपथविषयकेअंतर्गतअयोध्याकाविकास’’स्वीकृतकियागयाथा।ताजाजानकारीकेअनुसारसंस्कृतिएवंपर्यटनमंत्रालयद्वाराइसपरियोजनाकेलिए99.21करोड़रूपयेकीराशिजारीकीगयीहै।