संसू,पतरघट(सहरसा):हिन्दीभाषाभारतमांकीआवाजहै।हिदीराष्ट्रीयसंस्कृतिकासंवाहकहै।हिदीमधुरएवंसरलहैतथाविश्वकीसभीराष्ट्रीयभाषाओंसेश्रेष्ठहै।उक्तबातेंशनिवारकोमध्यविद्यालयकपसियामेंहिदीदिवसकेअवसरपरआयोजितगुरुगोष्ठीमेंमौजूदप्रखंडशिक्षाअधिकारीकृष्णकुमारचौधरीनेकहीं।उन्होंनेउपस्थितप्रधानाध्यापकोंसेविद्यालयकेसभीकार्यहिदीमेंकरनेकाआग्रहकिया।तथाकहाकिहिदीभाषाकेव्यवहारकरनेसेछात्रोंकोगुणवत्तापूर्णशिक्षाग्रहणकरनेमेंसहयोगमिलेगा।बीआरपीरामचरित्रयादवनेहिदीकोभारतकादर्पणमानातथाकहाकिहिदीमेंसत्यमशिवमसुंदरमकासमावेशहै।उन्होंनेकहाकिहिदीकेज्ञानसागरमेंछोटीछोटीभाषाओंकासमागमहोताहै।इसअवसरपरप्रधानाध्यापकराजीवकुमारसिंह,जवाहरलालझा,मो.हसन,वीरेंद्रकुमार,कुमारीनूतनसिंह,अश्वनीकुमार,प्रवीणकुमार,मनोजकुमारयादव,सुनीलकुमार,लेखापालधीरजकुमारबंटी,कुमारसत्येंद्रकुमारसिंह,गोपालजीसहितकईप्रधानाध्यापकनेअपनेअपनेविचारव्यक्तकिए।