संसू,प्रतापगढ़:अखिलभारतीयक्षत्रियमहासभाकेतत्वावधानमेंस्वाजातीयवरकन्याकासामूहिकविवाहश्रीविश्वेश्वरनाथधामसंडवासोमवंशियनमेंआयोजितकियागया।कार्यक्रममेंचारजोड़ोंकेविवाहधूमधामसेकरायागया।सामूहिकविवाहमेंअखिलभारतीयक्षत्रियमहासभाद्वारादैनिकउपयोगकीसभीवस्तुएंउपहारस्वरूपप्रदानकियागया।

मुख्यअतिथिकेरूपमेंमौजूदपूर्वविधायकहरिप्रतापसिंहनेकहाकिमहासभाद्वाराविगतसातवर्षोंसेआर्थिकरूपसेकमजोरस्वजातीयवरवधूकेविवाहकाकार्यक्रमकरायाजारहाहै,जोप्रशंसनीयहै।कार्यक्रममेंवरवधूकोआशीर्वाददेतेहुएजिलाध्यक्षठाकुरजबरसिंहवराष्ट्रीयअध्यक्षकुंवरअजयसिंह,प्रदेशअध्यक्षआशुतोषसिंहनेकहाकियेआर्थिकरूपसेकमजोरस्वजनोंकेबच्चोंकोशिक्षादिलायेजानेकेलिएप्रयासएवंसहयोगकियाजाऐगा।अध्यक्षताराजेश्वरप्रतापसिंहवसंचालनभानूप्रतापसिंहनेकिया।विशिष्टअतिथिअभयप्रतापसिंहपप्पन,सुरेंद्रप्रतापसिंह,किशनसिंह,अभयप्रतापसिंह,आशीषसिंह,आशुतोषसिंह,रामलखनसिंहनेवरकन्याकोआशीर्वादप्रदानकिया।विधि-विधानसेदर्शनपूजनकररहेश्रद्धालु

संसू,घुइसरनाथधाम:पर्यटननगरीबाबाघुइसरनाथधाममेंजलाभिषेकतोशारीरिकदूरीकेसाथशुरूहोगयाहै।विधिविधानसेश्रद्धालुओंकादर्शनपूजनहोरहाहै।बाबाघुइसरनाथधाममेंगंगासरोवरबेहदमहत्वपूर्णस्थलहै।लोगयहांस्नानकरतेहैं।साथहीसाथबच्चोंकीमस्तीभीखूबहोतीहै।महंतमयंकभालगिरिनेइनदिनोंकोरोनामहामारीकेचलतेलोगोंकोकिसीवस्तुकास्पर्शकरनावर्जितकियाहै।लोगोंमेंजागरूकताकाअभियानअनवरतचलायाजारहाहै।श्रृद्धालुगंगासरोवरमेंजलनहोने,सेमायूसहोजातेहैं।