जागरणसंवाददाता,देवघर:बाबाबैद्यनाथकेप्रतिभक्तोंकीश्रद्धाऔरआस्थाकाअटूटबंधनहै।कोरोनाकीवजहसेराज्यसरकारनेमंदिरमेंप्रवेशतथास्पर्शपूजापररोकलगारखीहै।इसकेलिएमंदिरमेंसुरक्षाबलोंकीपहरेदारीलगाईगईहै।कोरोनासंक्रमणकाप्रसारनहोइसकेलिएइसवर्षश्रावणीमेलाभीनहींलगायागयाहै।सड़कमार्गपरसख्तपहराहोनेकेकारणश्रद्धालुरेलमार्गसेमंदिरतकपहुंचरहेहैं।तीसरेसोमवारकोभीगेरूआवस्त्रधारीमंदिरकीगलियोंतकआपहुंचेलेकिनवेबाहरसेहीमंदिरकेपंचशूलकोप्रणामकरमंगलकामनाकी।सरदारपंडालेनसेबाबाबैद्यनाथकेगुंबदपरलगापंचशूलस्पष्टदिखजाताहै।यहींसेश्रद्धालुनेदर्शनकरबाबासेकहाकिहेभोलेनाथजल्दअपनीचौखटभक्तोंकेलिएखोलदीजाए।

उत्तरप्रदेशमेंकाशीविश्वनाथकामंदिरखुलाहुआहै।इसीआससेकुछलोगजानेअंजानेमेंयहाभीपहुंचरहेहैं।कईभक्तइसउम्मीदसेभीयहांपहुंचरहेहैंकिउनकेपहुंचतेकहींसरकारमंदिरकेखुलनेकीघोषणाकरदे।कोरोनासंक्रमणप्रसारकेरोकथामकेलिएझारखंडसरकारनेदेवघरऔरबासुकीनाथमंदिरकोश्रद्धालुओंकेबंदरखनेकाफैसलालियाहै।इसवर्षश्रावणीमेलाभीनहींलगाहै।

तीसरीसोमवारकोसरदारपंडागुलाबनंदओझानेबाबाबैद्यनाथकीप्रात:कालीनपूजाकी।इसकेबादतीर्थपुरोहितोंनेपूजाअर्चनाकिया।प्रत्येकसोमवारकोशाममेंबेलपत्रप्रदर्शनीलगतीहै।सो,पुरोहितोंनेचादीकीथालमेंबेलपत्रअíपतकिया।

उधरझारखंड-बिहारकीसीमादर्दमारामेंसुरक्षाबलोंकड़ापहराहैऔरएकएकवाहनमेंगंगाजलऔरगेरूआरंगपहनेलोगोंकीजाचकीजारहीहै।सुरक्षाबलोंकोयहदोनोंमेंकोईएकभीमिलजाएतोउसवाहनकोदेवघरमेंप्रवेशकरनेनहींदियाजारहाहै।कावरियापथकाप्रवेशद्वारदुम्मामेंभीसख्तपहरेदारीहै।सीमापरतोसख्तीदिखरहीहै,लेकिनभक्तमाननेवालेनहींहैं।वहकिसीनाकिसीरास्ताकोखोजकरशहरमेंप्रवेशकरजातेहैं।मंदिरकेआसपासमुंडनसंस्कारकरातेभीयात्रियोंकोदेखागया।सोमवारहोनेकेकारणउपायुक्तमंजूनाथभजंत्रीभीव्यवस्थाकोदेखनेकेलिएमंदिरपहुंचेथे।