जागरणसंवाददाता,भिवानी:मांगोंकेसमर्थनमेंलगातारधरनारतबर्खास्तपीटीआइअध्यापकोंनेसरकारकेखिलाफनारेबाजीकरतेहुएभेदभावकाआरोपलगाया।शारीरिकशिक्षकोंनेकहाकिसरकारद्वारासभीप्रक्रियाएंपूरीकरनेकेबादभीउनकीबहालीकीमांगअधूरीहै।इसदौरानसभीशारीरिकशिक्षकोंनेसरकारकेखिलाफनारेबाजीकरतेहुएरोषजताया।शारीरिकशिक्षकोंकानेतृत्वहरियाणाशारीरिकशिक्षकसंघर्षसमितिकेजिलाप्रधानदिलबागजांगड़ानेकिया।उन्होंनेकहाकिवेवर्ष2010सेलगातारस्कूलशिक्षाविभागमेंअपनीसेवाएंदेरहेथे।इसीदौरानसरकारनेजून2020मेंउनकोबाहरकारास्तादिखादिया।उनकीकईबारसरकारकेआलाअधिकारियोंयहांतककिमुख्यमंत्रीकेसाथभीवार्ताबैठकेंहुई।सरकारनेपोर्टलपरभीउनकीसभीजानकारियांमांगीवेभीउन्होंनेपूरीकीलेकिनआजतकउनकोबहालनहींकियागयाहै।इसकेचलतेउनकेआश्रितोंवउनमेंसरकारकेप्रतिनाराजगीहै।इसकासरकारकोजल्दहीखामियाजाभुगतनाहोगा।रविवारकोक्रमिकअनशनपरराजेशकुमार,उदयभान,बलजीततालू,सुरेंद्रसिंहकोपदाधिकारियोंनेबैठाया।इसअवसरपरप्राचार्यनिहालसिंह,दलीपसिंहसांगवानसंयुक्तकिसानमोर्चा,सुखबीरडाला,राजेशशर्माहरियाणारोड़वेज,मास्टरअजीतराठी,संदीपसांगवान,विनोदपिकूजिलामहासचिव,परमहंसचौपड़ा,सुरेंद्रसिंह,सुनीलसरोहा,भारतकुमार,सतीशयादव,अनिलतंवर,राजेशकुमार,सुरेंद्रसिंह,विनोदवैद्य,मुकेशकुमार,मुकेशतंवर,ईश्वरफौजीआदिकर्मचारीसंगठनोंकेपदाधिकारीउपस्थितथे।