कैमूर।जिलेमेंइसवर्षशेडनेटयोजनाकादायराउद्यानविभागद्वाराबढ़ायागयाहै।पात्रतापूरीकरनेवालेसभीआवेदककिसानोंकोइसयोजनाकालाभमिलेगा।उद्यानविभागशेडनेटलगानेपरसामान्यकिसानोंको50फीसदवअजा-अजजावर्गकेकिसानोंको75प्रतिशततककाअनुदानदेगी।शेडनेटकालाभलेनेलिएकिसानऑनलाइनआवेदनकरेंगे।

उद्यानविभागसेमिलीजानकारीकेअनुसारवित्तीयवर्ष2021-22केलिएउद्याननिदेशालयनेयोजनातैयारकीहै।इसकेअंतर्गतशेडनेटमेंकिसानसब्जी,फूलकीखेतीवपौधोंकीनर्सरीभीतैयारकरसकतेहैं।इसकेलिएअलग-अलगवर्गमीटरकेअनुसारशेडनेटबनानेकेलिएउद्यानविभागनेअनुदानकीराशिनिश्चितकीहै।इसयोजनाकालाभजिलेकेकिसानव्यक्तिगतकिसानकेरूपमेंयाकृषकसमूहकेरूपमेंप्राप्तकरसकेंगे।

किसानऑनलाइनआवेदनकरलेसकतेहैंयोजनाकालाभ

इससंबंधमेंसहायकनिदेशकतबस्सुमपरवीननेबतायाकिइसयोजनाकेलिएऑनलाइनआवेदनलिएजारहेहैं।किसानऑनलाइनआवेदनकरइसयोजनाकालाभप्राप्तकरसकेंगे।एकहजारवर्गमीटरशेडनेटकीलागतइकाईसातसेदसलाखहै।इसशेडनेटकेनिर्माणकेलिएसामान्यकिसानवअजा-अजजावर्गकेकिसानोंकेलिएविभागद्वाराअलग-अलगअनुदानकीराशिनिर्धारितकीगईहै।उन्होंनेकहाकिशेडनेटएकऐसीतकनीकहैजिससेपौधोंकोअधिकधूपसेबचायाजासकताहै।शेडनेटकेअंदरआवश्यकसूर्यकीरोशनीआतीहै।ठंडकेमौसममेंइसमेंपालासेभीपौधेबचतेहैं।शेडनेटमेंखेतीकरनेसेहरमौसममेंसभीप्रकारकीसब्जियांउगासकतेहैं।

शेडनेटनिर्माणपरलागतखर्चवअनुदान:

उद्यानविभागदोहजारवर्गमीटरकेशेडनेटनिर्माणलागतइकाईपर14.20लाखरुपयेदेतीहै।इसपरसामान्यकिसानोंको10.65लाखरुपयावअजा-अजजावर्गकेकिसानोंको12.78लाखरुपएअनुदानमिलेगा।वहींचारहजारवर्गमीटरकीलागतइकाईपर28.40लाखरुपएदेतीहै।इसपरसामान्यकिसानोंको21.30लाखरुपएऔरअजा-अजजावर्गकेकिसानोंको25.56लाखरुपयेअनुदानमिलेगा।