जासंगोड्डा:राष्ट्रीयविभूतिमंचकेबैनरतलेशहीदीदिवसपरमंगलवारकीसुबहस्थानीयभगतसिंहचौकअवस्थितभगतसिंहस्मारकपरबड़ीसंख्यामेंकृतज्ञराष्ट्रभक्तोंनेजंगएआजादीकेतीनोंमहानायकोंभगतसिंह,राजगुरुएवंसुखदेवकोभावभीनीश्रद्धांजलिदीगई।उनकेजीवनवृत्तसहकृतित्वपरप्रकाशडाला।भगतसिंहकीप्रतिमापरमाल्यार्पणएवंपुष्पांजलिकेपश्चातप्रमुखवक्ताओंमेंमंचसचिवराजेशझानेकईमहानायककेस्वतंत्रतासंग्राममेंअमूल्ययोगदानकोरेखांकितकिया।देशकेउत्थानऔरअभिरक्षाकेलिएयुवाओंसेभगतसिंहकीलिखीरचनाओंऔरउनकेविचारोंकोआत्मसातकरनेकीअपीलकी।वामपंथविचारकमंजूलदासनेकहाकिभगतसिंहशहीद-ए-आजमकेसाथ-साथबहुतबड़ेशायरभीथे।जिनकीरचनाओंमेंराष्ट्रकेप्रतिसम्मानकाभावपूरीशिद्दतसेपरिलक्षितहोताहै।लालालाजपतरायकीलाठीसेबेरहमीसेपिटाईऔरबादउनकीमौतकाबदलाबटुकेश्वरनाथकेसाथमिलकरलिया।

पूर्वनगरअध्यक्षनेकहाकिभगतसिंहकेविचारोंकोआत्मसातकरहीहमउन्हेंसच्चीश्रद्धांजलिदेसकतेहैं।आरएसएसकेपदाधिकारीमोतीसिन्हानेकेंद्रसरकारसेराजगुरु,सुखदेवएवंभगतसिंहकेघरपरिवारकीसुधलेतेहुएकहाकिजिसतरहश्रीरामजन्मभूमिकानिर्माणकियागयाउसीप्रकारइनतीनोंमहानायकोकेजन्मस्थलीकीभीराष्ट्रीयधरोहरकीतरहसुधलीजाए।अरुणसहायनेभगतसिंह,राजगुरुऔरसुखदेवकेमार्गपरचलकरदेशकेकिसानोंमजदूरोंकेहितमेंसंघर्षकानाराबुलंदकरनेकाआह्वाहनकिया।मौकेपरसमाजसेवीसुभाषयादव,रेडक्रॉससचिवसुरजीतझा,सीतारामराउतलोकमंचसचिवसर्वजीतझा,अमितराय,भाजपानेतापवनझावअतुलदुबे,भाजयुमोअध्यक्षप्रियांशुराज,भाजपानगरअध्यक्षगप्पूसिन्हा,रक्षितकश्यप,शिवरामजायसवाल,नरेंद्रमिश्रा,सच्चिदानंदसाह,प्रत्यूषरोहन,निखिलझा,प्रेमजीतसाह,विवेकानंदभंडारी,प्रमोदचौधरी,दशरथ,क्रांतिगुप्ताएवंप्रदीपमंडलनेभीविचाररखा।