आरा।1942मेंभारतछोड़ोआंदोलनकेदौरानशहीदहुएलसाढ़ीस्थित12शहीदोंकीआदमकदप्रतिमास्थलपरराजकीयसमारोहकाआयोजनकियागया।समारोहकेदौरानमुख्यअतिथिबिहारकेस्वास्थ्यमंत्रीसहभोजपुरकेप्रभारीमंत्रीमंगलपांडेय,कृषिमंत्रीअमरेंद्रप्रतापसिंह,अगिआंवविधायकमनोजमंजिल,तरारीविधायकसुदामाप्रसाद,संदेशविधायककिरणदेवी,अगिआंवकेपूर्वविधायकप्रभुनाथरामऔरसंदेशकेपूर्वविधायकबिजेंद्रयादव,जिलाधिकारीरोशनकुशवाहा,आरक्षीअधीक्षकविनयतिवारी,आरतीदेवी,फुलवंतीदेवी,मुकेशसिंहयादव,सुरेन्द्रयादव,भीमयादवसमेतअन्यअतिथियोंद्वाराशहीदोंकीआदमकदप्रतिमापरमाल्यार्पणकियागया।साथहीप्रभारीमंत्रीमंगलपांडेय,कृषिमंत्रीअमरेन्द्रप्रतापसिंहसमेतअन्यअतिथियोंद्वारासयुंक्तरुपसेदीपप्रज्ज्वलितकरसमारोहमंचकाउद्घाटनकियागया।इसअवसरपरमंगलपांडेयनेकहाकिआजहमभारतकेलोगखुलीहवामेंसांसलेरहेहैं,तोइन्हींकेबदौलत।इन्होंनेआजादीकीलड़ाईलड़करअपनेप्राणोंकीआहुतिदीहै।अपनेवतनकेलिएइनशहीदोंकीआहूतिसेसीखलेनेकीजरूरतहै।इनपूर्वजोंनेअपनेखूनसेइसवतनकोसींचाहै,जोहमारेलिएगौरवकीबातहै।हमेंइनकीकोकुर्बानीव्यर्थनहीजानेदेनाहै।अमरेंद्रप्रतापसिंहनेकहाकिशहीदोंनेइसदेशकीखातिरजोप्राणोंकीआहूतिदीहै,वहहमारेलिएप्रेरणास्त्रोतहै।यहगांवतीर्थस्थलबनगयाहै।यहधरतीवीरोंकीधरतीहै।इसगांवकेलोगोनेदेशकीआजादीमेंभागलेकरएकअलगइतिहासरचाहै।हमेंगर्वहैइनशहीदोंपर,जिन्होंनेअपनीकुर्बानीदेहमारेदेशकोअंग्रे•ाीहुकूमतसेआजादीदिलानेकाकामकिया।मनोजमंजिलनेकहाकिइनशहीदोंकीशहादतकेबादशहीदोंकायेगांवआजभीविकासकेलिएउपेक्षितहै।यहांविकासकीजरूरतहै।राजकीयसमारोहकेदौरानप्रखंडविकासपदाधिकारीसुनीलकुमारसिंह,अंचलाधिकारीचंद्रशेखर,प्रखंडस्वास्थ्यप्रबंधकराकेशपांडेय,भाजपाजिलाध्यक्षडा.प्रेमरंजनचतुर्वेदी,भाजपाप्रदेशकार्यसमितिसदस्यविजयकुमारसिंह,भाजपाजिलामंत्रीवंदनाराजवंशी,भाजपाकिसानमोर्चाजिलाध्यक्षरंगबहादुरयादव,भाजपाकिसानमोर्चाजिलाउपाध्यक्षअभिमन्युसिंह,भाजपामंडलमहामंत्रीकुंदनकुशवाहा,भाजपानेताबिनयबेलाउर,भाजपासहारमंडलअध्यक्षकेशोराय,भाजपाआरामंडलअध्यक्षजीतूचौरसिया,राजदप्रखंडअध्यक्षनंदकुमारयादव,अरविदसिंह,भीमयादव,नंदकिशोरयादव,सुरेन्द्रयादवआदिमौजूदथे।मंचसंचालनसुरेन्द्रयादवनेकिया।

भाकपा-मालेनेलगायाशहीदमेला,विधायकोंसमेतअन्यनेताओंनेप्रतिमापरकियामाल्यार्पणफोटोफाइल15आरा18संवादसूत्र,अगिआंव:भाकपा-मालेद्वाराशहीदोंकेसम्मानमेंलसाढ़ीमेंशहीदमेलाकाआयोजनकियागया।शहीदमेलाकीशुरुआतशहीदोंकेस्मारकपरमुख्यअतिथिपोलितब्यूरोसदस्यस्वदेशभट्टचार्य,केंद्रीयकमिटीसदस्यराजूयादव,सरोजचौबेसहितसभीनेताओंनेमाल्यार्पणकरकी।साथही1942मेंशहीदहुएस्वतंत्रतासेनानियोंएवंकिसानआंदोलनमेंशहीदहुएकिसानोंकोश्रद्धाजंलिदी।इसमौकेपरमुख्यअतिथिपोलितब्यूरोसदस्यस्वदेशभट्टचार्यनेकहाकिआजादीकीलड़ाईकेबादभीआजादभारतमेंभोजपुरकेलोगोंनेलड़ाईजारीरखी।भोजपुरवासियोंनेरामनरेशरामकीअगुआईमेंसामंती,सम्प्रदायिकवफासीवादीताकतोंकेखिलाफलड़ाईजीतीहै।केंद्रीयकमिटीसदस्यराजूयादवनेकहाकिकिसानोंकेशहादतकेकारणअंग्रेजोंकोभागनापड़ाऔरहमारादेशआजादहुआ।केंद्रीयकमिटीसदस्यवमहिलानेत्रीसरोजचौबेनेकहाकिलसाढ़ीकाजोस्मारकहैउसमेंगरीब-अमीरसेलेकरसभीवर्गकेलोगशामिलहैं।इसशहीदमेलामेंअगिआंवविधायकमनोजमं•िाल,तरारीविधायकसुदामाप्रसाद,वरिष्ठनेत्रीमीरादेवी,अगिआंवब्लाकसचिवरघुबरपासवान,गड़हनीसचिवरामछपितराम,चरपोखरीसचिवमहेशजी,इनौसजिलासंयोजकशिवप्रकाशरंजन,मीडियाप्रभारीचन्दनकुमार,जिलाकार्यालयसचिवजितेंद्रकुमार,शिवमंगलयादव,हरिनाथराम,लालूयादव,सुशीलपाल,विष्णुमोहनअखिलेशगुप्तासहितकईलोगशामिलहुए।समारोहकीअध्यक्षतारघुवरपासवानवसंचालनउपेन्द्रविद्रोहीनेकिया।