शामली,जेएनएन।संयुक्तजिलाअस्पतालजल्दशुरूहोनेकीउम्मीदअभीनजरनहींआरहीहैऔरसामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्ररेफरलसेंटरबनेहैं।ओपीडीमेंआनेवालेमरीजोंकीसंख्याअधिकहोतीहैऔरडॉक्टरकमहैं।विशेषज्ञडॉक्टरोंकाअकालहैऔरकुछजांचकीसुविधाएंहीहैं।ऐसेमेंमरीजोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़रहाहै।सीएचसीमेंअक्सरबुखारऔरखांसीआदिकीदवाकाभीटोटाहोजाताहै।डॉक्टरोंद्वाराबाहरीदवालिखनेकासिलसिलाजारीहै।

मुंडेंटगांवकेनिकटपूर्वीयमुनानहरकिनारेनिर्माणाधीनसंयुक्तजिलाअस्पतालकाकाममार्चतकपूराहोनेकीउम्मीदहै।इंडियनपब्लिकहेल्थस्टैंडर्ड(आईपीएचएस)केमानककेअनुसारस्टाफकेलिएप्रस्तावकईमाहपहलेभेजागयाथाऔरअभीतकस्वीकृतिनहींमिलीहै।स्वास्थ्यविभागनेअगस्तसेओपीडीशुरूकरनेकीबातकहीथी,लेकिनअभीइसकेभीआसारनहींलगरहेहैं।

सीएचसीशामलीमेंनहींसुविधाएं

सामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्रशामलीकोजिलाअस्पतालकातमगाजरूरमिलाहै,लेकिनयेरेफरसेंटरहीबनाहुआहै।फिजीशियनसमेततमामविशेषज्ञडॉक्टरनहीहैंऔरसामान्यचिकित्सकहीसभीमर्जकेरोगियोंकोदेखतेहैं।अगरजराभीगंभीरस्थितिहोतीहैतोमेरठयामुजफ्फरनगररेफरकरदियाजाताहै।जिलाबननेकेबादसीएचसीपरमरीजोंकीसंख्याकाफीबढ़ीहै।लोगयहांबेहतरस्वास्थ्यसेवाएंमिलनेकीआसमेंआतेहैं,लेकिननिराशाहाथलगतीहै।करीबछहसालसेकोईफिजीशियननहींहै।इसकेअलावाजनरलसर्जनवरेडियोलॉजिस्टभीनहींहै।हृदयरोगविशेषज्ञकातोपदहीसृजितनहींहै।सीएचसीमेंऔसतनरोजाना1200मरीजआतेहैं।अल्ट्रासाउंडकीजांचभीनहींहोतीहैऔरएक्सरेमशीनभीपुरानीहै।बिजलीगुलहोनेपरएक्सरेभीनहींहोपातेहैं।

एक्सरेमशीनबनीहैशोपीस

संसू,कैराना:सीएचसीमेंप्रतिदिन400से500मरीजआतेहैं।सिर्फचारडॉक्टरोंकीतैनातीहै।एक्सरेमशीनतोहै,लेकिनटेक्नीशियननहींहोनेसेशोपीसबनीहै।ऐसेमेंएक्सरेजांचकेलिएमरीजोंकोशामलीआनापड़ताहैयाफिरनिजीसेंटरपरजांचकरानीपड़तीहै।गंभीरघायलोंकोप्राथमिकउपचारकेबादसीधेरेफरकरदियाजाताहै।नगरकीहीआबादीकरीबएकलाखहैऔरग्रामीणक्षेत्रभीइसीसीएचसीपरनिर्भरहैं।

तीनडॉक्टरोंकेभरोसेसीएचसी

संसू,कांधला:सीएचसीमेंअल्ट्रासाउंडतोदूरएक्सरेतककीजांचनहींहोती।खून,शुगरआदिसामान्यजांचहीहोपातीहैं।अव्यवस्थाओंकीभरमारहैऔरअक्सरतीमारदारहंगामाभीकरतेहैं।सीएचसीमेंसिर्फतीनचिकित्साअधिकारियोंकीतैनातीहैऔरमरीजोंकीसंख्याप्रतिदिन400से500रहतीहै।

दोपहरबादपसरजाताहैसन्नाटा

संसू,झिझाना:सामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंदोडॉक्टरकीतैनातीहै।यहांजांचकीकोईसुविधानहींहै।सिर्फटीबीकेसैंपललिएजातेहैं।दोपहरदोबजेकेबादअस्पतालमेंसन्नाटापसरजाताहैऔरइमरजेंसीसेवाभीनहींमिलपाती।ओपीडीमेंभीकभी-कभीतोएकहीडॉक्टरउपस्थितरहतेहैं।ऐसेमेंमरीजोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़रहाहै,लेकिनकहींसुनवाईनहींहोरही।

अव्यवस्थाओंकाबोलबोला

संसू,थानाभवन:सीएचसीकीएकचिकित्सकमार्च2018सेअनुपस्थितचलरहीहैंऔरएकउच्चशिक्षाप्राप्तकरनेकेलिएजून2018सेअवकाशपरहैं।चिकित्साअधीक्षकसमेतचारचिकित्सकहैं।अक्सरसमयसेओपीडीकक्षमेंनपहुंचनेकेचलतेमरीजपरेशानरहतेहैं।पिछलेदिनोंजिलाधिकारीकेनिर्देशपरखंडविकासअधिकारीनेऔचकनिरीक्षणभीकियाथाऔरसुबहसवाआठबजेचिकित्सकवअधिकांशस्टाफअनुपस्थितमिलाथा।इमरजेंसीसेवारातमेंऑनकॉलहोतीहैऔरमरीजआनेकेकाफीदेरबादडॉक्टरपहुंचतेहैं।कुछदिनपहलेहीइमरजेंसीमेंसफाईकर्मचारीद्वारामरीजकोटांकेलगानेकामामलाभीसामनेआयाथा।

दोहीडॉक्टरोंकीतैनाती

संसू,ऊन:सीएचसीमेंस्थाईचिकित्सकएकहीहै।एकडॉक्टरकीव्यवस्थासंविदापरहै।यहांपरभीटीबीकेसैंपलहीजांचकेलिएलिएजातेहैं।इसकेअलावाकोईसुविधानहींहै।ऐसेमेंमरीजझोलाछापोंकेजालमेंफंसनेकोमजबूरहोतेहैं।तहसीलबननेकेबादलोगोंकोउम्मीदथीकिसीएचसीकीस्थितिबेहतरहोगी,लेकिनऐसाकुछनहींहुआ।

येहोसकताहैसमाधान

-उपजिलाधिकारीमाहमेंएकबारसीएचसीकाऔचकनिरीक्षणकरें।

-अव्यवस्थामिलनेपरसंबंधितकेखिलाफकार्रवाईअमलमेंलाईजाए।

-ओपीडीकक्षमेंसीसीटीवीलगाएजाएं,जिससेडॉक्टरोंकेआने-जानेकापतारहे।

-डॉक्टरोंकीकमीकोपूराकरनेकेलिएशासनस्तरपरमजबूरपैरवीहो।

जिलाधिकारीकेनिर्देशपरपिछलेदिनोंप्रशासनिकअधिकारियोंनेसभीसीएचसीकाऔचकनिरीक्षणकियाथा।स्वास्थ्यसेवाओंकोबेहतरबनानेकेलिएप्रयासकिएजारहेहैं।

-अरविदकुमार,अपरजिलाधिकारी।डॉक्टरोंकीकमीकोपूराकरनेकेलिएप्रस्तावशासनकोभेजेजातेहैं।अबजल्दहीजिलाअस्पतालमेंओपीडीशुरूकरनेकाप्रयासहै।अव्यवस्थाओंकोदूरकरायाजारहाहै।

-डॉ.संजयभटनागर,मुख्यचिकित्साधिकारी।