गोरखपुर,जेएनएन।मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेविजयादशमीकेअवसरपरमंगलवारकीसुबहगोरखनाथमन्दिरमेंश्रीनाथकीपारंपरिकपूजापूरेविधि-विधानकेसाथसम्पन्नकी।श्रीनाथपूजासेपहलेगोरक्षपीठाधीश्वरकीभव्यशोभायात्रामंदिरपरिसरमेंनिकली।

नाथपंथकेयोगियों,पुजारियोंएवंसंतोंकेसाथसुबह9.25बजेनिकलीशोभायात्राकीअगुवाईमुख्यमंत्रीयोगीबतौरगोरक्षपीठाधीश्वरखुदकररहेथे।100कीसंख्यामेंवेदपाठीबच्चेत्रिशूल,तलवारऔरअन्यशस्त्रलिएसैनिककीतरहउनकीसुरक्षामेंचलरहेथे।

शोभायात्राभीनिकली

शोभायात्रासबसेपहलेगुरुगोरक्षनाथकेदरबारमेंपहुंची,जहांगर्भगृहमेंश्रीनाथजीकाअनुष्ठानएवंपूजनसंपंनकियागया।पूजाकेअंतमेंढोलनगाड़ेकीधुनबीचभव्यआरतीहुई।पूजनप्रक्रियातकरीबनएकघंटेचली, जिसमेंयोगीआदित्यनाथकेसाथयोगीकमलनाथएवंसूरजनाथहीमौजूदरहे।

कलाकारोंनेकियाप्रदर्शन

शोभायात्राकेदौरानबैंडकेसाथडमरु,बीन,शंखबजानेवालेकलाकारोंकाश्रद्धासेभराशौर्यपूर्णप्रदर्शनमौजूदलोगोंकेआकर्षणकाकेंद्रबनारहा।पूरापरिसरएकआध्यात्मिकऔरसकारात्मकऊर्जासेओतप्रोतथा।

श्रीनाथपूजाकेबादयोगीआदित्यनाथनेभैरवमंदिर,दुर्गामंदिर,रामदरबार,अखण्डधूनी,हनुमानमंदिर,श्रीकृष्णदरबारसहितमन्दिरपरिसरमेंस्थापितसभीदेवी-देवताओंका दर्शन-पूजनकिया।

योगीनेमछलियोंकोचाराडाला

इसीक्रममेंयात्राभीमप्रतिमाकेसामनेपहुंची,जहांभीमसरोवरपरपूजनकियागया।योगीनेसरोवरकीमछलियोंकेलिएचाराभीडाला।सबसेअंतमेंउन्होंनेब्रह्मलीनमहंतदिग्विजयनाथऔरमहंतअवेद्यनाथकीसमाधिपरपहुंचकरउन्हेंपुष्पअर्पितकिया।शोभायात्राकेबादमुख्यमंत्रीगोशालागएऔरकरीब20मिनटगायोंकेबीचगुजरा।

भक्तोंनेतिलकलगाकरलियायोगीकाआशीर्वाद

पूजनकेबाददोपहरएकबजेतिलकोत्सवकार्यक्रमआयोजितहुआ।मन्दिरकेतिलकहालमेंआयोजितइसकार्यक्रममेंबड़ीसंख्यामेंभक्तोंनेगोरक्षपीठाधीश्वरकोतिलकलगाकरउनकाआशीर्वादलिया।आशीर्वादस्वरूपयोगीनेभीश्रद्धालुओंकेमाथेपरचंदनकातिलकलगाया।कार्यक्रमशामतीनबजेतकचला।तिलकलगानेकीशुरुआतमंदिरकेप्रधानपुजारीयोगीकमलनाथनेनाथसंप्रदायकेअन्ययोगियोंएवंसाधु-संतोंकेसाथकी।कार्यक्रममेंजनप्रतिनिधियोंकेअलावाभाजपानेताओंनेभीहिस्सालिया।