जागरणसंवाददाता,गुरुग्राम:गांवग्वालपहाड़ीनिवासी48वर्षीयसुरेशकाशवसोमवारशामद्रोणाचार्यमेट्रोस्टेशनकेनजदीकएकगटरमेंमिला।वहडीएलएफफेज-तीनइलाकेकीएकसोसायटीमेंगार्डकीनौकरीकरतेथे।डीएलएफफेज-तीनथानापुलिसनेशककेआधारपरसोसायटीमेंहीचालककाकामकरनेवालेमूलरूपसेउत्तराखंडकेअलमोड़ानिवासीजगतसिंहकोबुधवारशामगांवनाथूपुरइलाकेसेगिरफ्तारकियातोपूरीसच्चाईसामनेआगई।14सितंबरकीरातआरोपितवसुरेशनेएकसाथबैठकरमेट्रोस्टेशनकेनजदीकशराबपीथी।उसीदौरानउसनेसुरेशकेसिरपरपहलेपत्थरसेहमलाकियाथा।जबवहबेहोशहोगएतोउन्हेंउठाकरगटरमेंडालदियाथा।

ग्रामीणमंगलसिंहनेबतायाकि14सितंबरसेहीसुरेशलापताथे।वहघरसेड्यूटीकरनेगएथेलेकिनवापसनहींलौटे।कईदिनोंतकखोजबीनकेबादभीवहनहींमिले।फिरउनकेसाथआने-जानेवालोंसेपूछताछकीगईतोपताचलाकि14सितंबरकोडयूटीसेघरआनेकेदौरानसुरेशएवंउनकेसाथआने-जानेवालोंनेशराबपीथी।फिरजिसजगहपरशराबपीथी,वहांपरस्वजनपहुंचेतोदेखाकिगटरकामुंहकुछखुलाथा।ढक्कनहटाकरदेखातोउसमेंशवमिला।शवदेखनेसेसाफथाकिहत्याकरकेशवकोगटरमेंडालदियागयाथा।जांचअधिकारीएसआइलालसिंहकाकहनाहैकिमामलेमेंएकहीव्यक्तिआरोपितहै।उसेगिरफ्तारकरलियागयाहै।बृहस्पतिवारकोउसेअदालतमेंपेशकररिमांडपरलगयाजाएगा।रिमांडकेदौरानपताकियाजाएगाकिआखिरउसनेक्योंहत्याकी।छहबेटियोंकेपिताथेसुरेश:गांवनिवासीवसामाजिककार्यकर्तामंगलसिंहकाकहनाहैकिसुरेशकीछहबेटियांहैं।परिवारमेंवहीकमारहेथे।उनकीहत्याकेबादपरिवारकेऊपरविकरालसंकटआगयाहै।पूरेगांवमेंउनकीहत्यासेशोकहै।सभीकोचिताहैकिआगेपरिवारकाकामकैसेचलेगा।उम्मीदहैकिजहांवहकामकरतेथे,वहांसेकुछपरिवारकोसहायतामिलेगी।