संवादसूत्र,कोटकपूरा,

नजदीकीगांवमचाकीकलांकेसरकारीसीनियरसेकंडरीस्कूलमेराममुहम्मदसिंहआजादवेलफेयरसोसायटीकीतरफसेहोशियारबच्चोंकेकरवाएगए।सम्मानसमारोहमेंमुख्यमेहमानऔरविशेषमेहमानकेतौरपरपहुंचेइसीस्कूलकेविद्यार्थीरहेपरमिन्दरकौरऔरसरपंचगुरशविन्दरसिंहबराड़नेबच्चोंकोसंबोधितभीकिया।

सरपंचगुरशविन्दरसिंहनेस्कूलमेंऐसेसमागमोंमौकेबच्चोंकेबैठनेकेलिएदरियोंकाप्रबंधकरनेऔर23मार्चशहीदभगतसिंह,सुखदेव,राजगुरूआदिशहीदोंकीयादमेंबड़ासमागमकरानेकाएलानभीकिया।परमिन्दरकौरनेबतायाकिवहइसीस्कूलमेंपढ़ाईकरआजसरकारीअध्यापककेतौरपरसेवाएंनिभारहीहैं।अपनेसंबोधनदौरानकुलवंतसिंहचानी,गुरिन्दरसिंहमहन्दीरत्ता,मनदीपसिंहमिटूगिल्ल,सोमइन्दरसिंहसुनामीनेजहांबच्चोंकोनैतिकताकापाठपढ़ानेसामाजिककुरीतियोंसेबचनेऔरउनकेखात्मेकेलिएयत्नशीलरहनेकान्योतादिया।उन्होंनेविद्यार्थियोंकोअपनीपढ़ाईपरध्यानदेनेकोकहा।

स्कूलकेप्रिसिपलदर्शनसिंहनेबतायाकिसोसायटीकीतरफसेआजतीसरेसाललगातारतीसरासमागमकियाजारहाहै,जिसकेसाथबच्चोंकेज्ञानमेंविस्तारहोनास्वाभाविकहै।उन्होंनेबतायाकिऐसीसोसायटियोंकेप्रयासकेसाथहीसरकारीस्कूलोंकेनतीजेबढि़याआनेशुरूहोगएहैं।अंतमेंहोशियारबच्चोंसमेतमुख्यमेहमानऔरप्रिसिपलकाभीविशेषसम्मानहुआ।इसमौकेउपरोक्तकेअलावासुखदर्शनसिंहगिल,इकबालसिंहमंघेड़ा,राजकुमारधींगड़ासमेतबड़ीसंख्यामेंगांवकेऔरआदरणीयभीउपस्थितथे।