जागरणसंवाददाता,मऊ:आजमगढ़जनपदकेसगड़ीविधानसभाकेतत्कालीनविधायकसीपूसिंहकीवर्ष2012मेंहुईहत्याकेबादउसकेचश्मदीदगवाहप्रमुखप्रतिनिधिअजीतसिंहकोबार-बारमाफियाकुंटूसिंहद्वाराजानसेमारनेकीधमकीदीजारहीथी।इससेअपनीसुरक्षाकेलिएउसनेउच्चन्यायालयमेंसरकारीगनरकेलिएअर्जीभीदीथी।इसकीजांचपड़तालकेलिएकोर्टनेपुलिसअधीक्षककार्यालयसेरिपोर्टमांगीथीपरंतुमुहम्मदाबादगोहनाकोतवालीमेंकईमुकदमेदर्जहोनेतथाहिस्ट्रीशीटरहोनेकेकारणसुरक्षाकर्मीनहींमिलपाए।अजीतकेनजदीकियोंकीमानेंतो01जनवरीसे10जनवरीकेबीचअपनेऊपरहमलेकीउसेभनकथी,वहअपनीसुरक्षाकोलेकरकाफीसतर्करहताथा।बावजूदइसकेखुदकोबचानसका।जिसतरहसेउसकीहत्यामेंहत्यारोंकीतैयारीकोलेकरघटनाक्रमसामनेआरहेहैं,उससेयहशकलोगोंमेंगहरारहाहैकिउसकीपल-पलकीगतिविधियोंकीकोईसटीकमुखबिरीकररहाथा।इसेलेकरक्षेत्रकेचट्टी-चौराहोंवबाजारोंमेंतरह-तरहकीचर्चाएंचलरहीहैं।समर्थकोंकेलिएसायाबनकररहताथाअजीत

जागरणसंवाददाता,मऊ:लखनऊकेगोमतीनगरविभूतिखंडमेंकठौताचौराहेपरबदमाशकीगोलीकाशिकारहुएमुहम्मदाबादगोहनाकेप्रमुखप्रतिनिधिअजीतसिंहअपनेसमर्थकोंकेलिएसायाबनकररहताथा।किसीभीसमर्थककेदुखसुखमेंशामिलहोनाउसकीआदतमेंशामिलथा।वहयथासंभवअपनेलोगोंकीकाफीमददभीकरताथाइन्हींसबकारणोंसेकाफीतेजीसेवहअपनेसमर्थकोंकेलिएचहेताबनगया।क्षेत्रमेंबढ़तेप्रभावकेचलतेवहबड़ेसेबड़ेजमीनी,घरेलूएवंमारपीटकीघटनाओंकोपंचायतोंकेमाध्यमसेनिपटाराकराताथा।उसनेक्षेत्रमेंकईदशकोंपुरानेजमीनीविवादकोसमझाबुझाकरसमाप्तकरायाथा।