संवादसूत्र,संगरूर:भारतीयकिसानयूनियनएकताडकौंदाब्लॉकशेरपुरद्वारासुविधाकेंद्रमेंलोगोंकेकार्यनहोनेकेचलतेपेशआरहीसस्याओंकेविरोधमेंरोषप्रदर्शनकियागया।संगठनकेब्लॉकप्रधानकर्मजीतसिंहछन्नानेकहाकिसुविधाकेंद्रमेंविभिन्नकार्योंकेलिएजरूरीसर्टिफिकेटवआधारकार्डमेंकरेक्शनकोलेकरलोगकईदिनोंसेपरेशानहोरहेहैं,किंतुसुविधाकेंद्रकेकर्मचारियोंद्वारालोगोंकाकार्यपारदर्शितासेकरनेकीबजाएअपनेचहेतोंकेकायपहलेकिएजारहेहैंजबकिगांवकेआमलोगसुबहसेलेकरशामतकअपनीबारीकाइंतजारकरतेहुएबिनाकामकरवाएलौटजातेहैं।सुविधाकेंद्रमेंकार्यकरवानेकेलिएआनेवालेलोगोंकेनंबरभीरातकोलगाएजातेहैं,जिसकारणउपभोक्तओंमेंरोषहै।सुविधाकेंद्रमेंटोकननंबरकीडिस्पलेलगानीचाहिएताकिउपभोक्तओंअपनीबारीअनुसारकार्यकरवासके।संगठनकेनेताओंनेप्रशासनकोचेतावनीदेतेकहाकियदिएकसप्ताहमेंलोगोंकीसमस्याओंकाहलनहुआतोवहसुविधाकेंद्रसमक्षधरनादेनेकोविवशहोंगे।इसमौकेगुरमीतसिंहफौजी,दर्शनसिंह,टीनासिंह,जसविदरसिंह,अमरसिंहआदिउपस्थितथे।

इसबारेमेंसुविधाकेंद्रकेइंचार्जरविदरसिंहसेबातकीतोउन्होंनेकहाकिउनकेपास38गांवोंकाकार्यहोनेकेकारणयहसमस्याआरहीहै।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!