जोगेंद्रनगर,जागरणसंवाददाता।भारतपाकिस्तानकेयुद्धमेंभारतकीस्वर्णिमविजयकी50वींवर्षगांठकोयादगारबनानेकेलिएप्रदेशऔरदेशभरमेंपरिक्रमाकरतेहुएजोगेंद्रनगरपहुंचीस्वर्णिमविजयमशालकाजयहिंदकेनारोंसेभव्यस्वागतहुआ।शहरकीआरंभसीमागुरूद्वारापरिसरकेनजदीकपूर्वसैनिकोंकीअगुवाईमेंखिलाडि़योंऔरस्थानीयलोगोंनेविजयमशालकास्वागतकिया।

शहरकीपरिक्रमाकरतेहुएपूर्वसैनिकसदनमेंपहुंचीस्वर्णिमविजयमशालकोकरीबएकघंटेतकपूर्वसैनिकोंकेदर्शनोंकेलिएरखागया।इसदौरानब्रिगेडियरसंदीपएसशारदानेउपस्थितपूर्वसैनिकोंऔरवीरनारियोंकोबतायाकिसन्1971मेंभारतकीपाकिस्तानपरशानदारजीतकी50वींवर्षगांठकायहऐतिहासिकअवसरदेशभरमेंस्वर्णिमविजयवर्षकेरूपमेंमनायाजारहाहै।देशकेअलग-अलगकोनोंमेंचारस्वर्णिमविजयमशालदेशवासियोंकोभारतपाकयुद्धमेंवीरसैनिकोंकीशहादतऔरउनकेपराक्रमकीयहगौरवशालीयात्रा21दिसंबरकोदिल्लीपहुंचेगी।

जहांपरवीरसैनिकोंकोश्रद्धाजंलीदेकरउनकेपराक्रमकोसराहाजाएगा।कार्यक्रममेंमौजूदवरिष्ठवाईसचेयरमैनरविंद्रठाकुर,कैप्टनचंद्र,सुबेदारमेजरशेषराम,नेकराम,बुद्धिसिंह,रामपाल,कैप्टनभगतराम,शरदशर्मानेबतायाकियात्रासेदेशऔरप्रदेशवासियोंमेंनवउर्जाकासंचारहोरहाहै।जोगेंद्रनगरपहुंचनेपरपूर्वसैनिकोंनेस्वर्णिमविजयमशालयात्राकाजयहिंदकेनारोंसेस्वागतकर1971केवीरसैनिकोंकेपराक्रमकोयादकिया।

स्वर्णिमविजयमशालयात्रासेयुवाओंकोमिलेगीप्रेरणा-मेजरविशालशर्मा

जोगेंद्रनगरमेंपहुंचीस्वर्णिमविजयमशालयात्राकास्वागतकरनेकेबादमेजरविशालशर्मानेकहाकि1971केयुद्धमेंप्रदेशकेजांबाजसैनिकोंकाभीअहमयोगदानरहाहै।गौरवशालीयात्रासेयुवाओंकोप्रेरणामिलेगी।स्वर्णिमविजयमशालकोदेशकेलिएगौरवकापर्वबतातेहुएकहाकिदेशकीआनवानशानकेलिएसेनामेंशामिलहोनेकेलिएउत्साहितयुवाओंकोइससेप्रेरणामिलेगी।कार्यक्रमकेअंतमें1971केयुद्धमेंशामिलरहेपूर्वसैनिकोंकोभीबिग्रेडियरसंदीपएसशारदाकीओरसेसम्मानितकियागया।जिनमेंपूर्वसैनिकभगतराम,तुलसीराम,कृष्ण,प्रेमसिंहवर्मा,राजेंद्रसिंह,लक्ष्मणदास,चतरसिंह,चंदनसिंह,वीरसिंह,खजानाराम,विशंभरचंद,कडकूराम,घनूराम,मोहनसिंह,भागीरथ,मनोहरलाल,ओपीशर्मा,सुभाषसिंह,ज्ञानचंद,पीएसराठौर,रसीलचंद,जेसीकटोच,डीआरवर्मा,स्वर्णकुमारचंदेल,सोहनसिंह,भागसिंह,मंगतराम,रूपसिंहराठौर,जगरूपसिंह,सोहाथापा,शेरसिंह,नेकराम,धर्मसिंह,दिलीपसिंह,मंगतराम,रोशनलाल,संतसिंह,श्रवणसिंह,शरणू,गुरदयालसिंह,पूर्णचंद,सिद्धूराम,प्यारसिंहआदिमौजूदरहे।