जागरणसंवाददाता,जौनपुर:वासंतिकनवरात्रकेतीसरेदिवसगुरुवारकोशक्तिपीठशीतलाचौकियांधामवअन्यमंदिरोंमेंमांदुर्गाकेतीसरेस्वरूपदेवीचंद्रघंटाकाश्रद्धालुओंनेपूजन-अर्चनकिया।त्रिस्तरीयपंचायतचुनावकेमतदानकेकारणपहलेदोनोंदिनोंकीअपेक्षामंदिरोंकमभीड़दिखी।नौदिनव्रतरखनेवालोंनेघरोंमेंस्थापितकलशकाविधि-विधानसेपूजनकरनेकेसाथहीदुर्गासप्तशतीकापाठकिया।

चौकियांधाममेंभोरमेंसाढ़ेचारबजेमंगलाआरतीकेबादशहरवग्रामीणांचलोंसेआएश्रद्धालुओंकेझांकीदर्शनकरनेकासिलसिलाशुरूहोगया।मंदिरकेमुख्यद्वारपरमांशीतलाकेप्रतीकस्वरूपरखेपीतलकेकलशपरहलवा-पूड़ी,फूल-गजरा,नारियलआदिचढ़ाकरश्रद्धालुवहींसेझांकीदर्शनकरतेरहे।हालांकिसुबहसातबजेकेबादमतदानकेकारणदुकानोंकोबंदकराएजानेसेश्रद्धालुभीकमहोगए।मंदिरप्रशासननियंत्रणकक्षसेश्रद्धालुओंकोकोविड-19केसंक्रमणसेबचावसंबंधीदिशा-निर्देशलगातारदियाजातारहा।इसीतरहबड़ीसंख्यामेंश्रद्धालुओंनेकालीकुत्ती(परमानतपुर)स्थितमैहरमातामंदिर,ताड़तलास्थितमांविध्यवासिनीमंदिर,चहारसूचौराहा,ओलंदगंजमेंचौरामातामंदिरमेंभीदर्शन-पूजनकिया।ऐसीमान्यताहैकिमांचंद्रघंटाकीसविधिपूजाकरनेसेश्रद्धालुकोगजकेसरीयोगकालाभप्राप्तहोताहै।इससेसाधककोजीवनमेंउन्नति,ज्ञान,स्वर्णधनवशिक्षाकीप्राप्तिहोतीहै।