संवादसहयोगी,संगरूर:श्रीमहाकालीदेवीमंदिरपटियालागेटकेसाथपानीवालीटंकीगिरानेकेबादखालीहुईजमीनकोलेकरचलरहेविवादपरशनिवारकोप्रशासनिकअधिकारियोंनेआपसीसहमतिसेविरामलगानेमेंसफलताहासिलकी।शनिवारकोउससमयप्रशासनकेहाथपैरफूलगए,जबमरणव्रतपरबैठेहुएसुभाषकटारियानेमसलेकाहलनहोनेपरआत्मदाहकरनेकाएलानकिया।उनकेसाथधरनेपरबैठेएकव्यक्तिनेखुदपरपेट्रोलभीडाललिया।

सुभाषकटारियासेएकघंटेतकनगरकौंसिलकेकार्यसाधकअफसररमेशकुमार,नायबतहसीलदारकेवलकृष्णवडीएसपीसतपालशर्माकीचलीबैठककेबादलिखिततौरपरपत्रसौंपकरमरणव्रतसमाप्तकरवाया।देरशामकोप्रशासनिकअधिकारियोंनेसंघर्षकारियोंकोभरोसादिलायाकिइसजगहकोनतोबेचाजाएगातथानहीयहांपरनगरकौंसिलद्वारादफ्तरबनायाजाएगा,जिसकेबादसंघर्षसमाप्तकरदियागया।समझौतेउपरांतमंदिरकेसेवादारोंनेमंदिरमेंमाथाटेका।

उल्लेखनीयहैकिनगरकौंसिलहाउसकीबैठकमेंहाउसनेप्रस्तावडालाथाकिनगरकौंसिलकीओरसेइसखालीजगहपरदफ्तरबनायाजाएगायाइसजगहकोबेचकरकौंसिलदफ्तरकानिर्माणवदेनदारियोंकोनिपटायाजाएगा।नगरकौंसिलइसजमीनपरअपनीमालकियतकादावाजतारहीथी,जबकिदूसरेतरफमंदिरकेसमक्षमरणव्रतपरबैठेसुभाषकटारियासहितअन्यकार्यकर्ताओंद्वारादावाकियाजारहाथाकियहजमीनमंदिरकमेटीकीहै।मंदिरकमेटीनेनगरकौंसिलनेवर्ष1981मेंट्यूबवेललगानेकेलिएजगहलीजपरलीथी।अबटंकीगिरानेकेबादकौंसिलइसपरअपनादावाजतारहीहै,जोसरासरगलतहै।यहजगहमंदिरकोसौंपीजाए।

नगरकौंसिलकेकार्यसाधकअफसररमेशकुमारनेसुभाषकटारियाकामरणव्रतसमाप्तकरवानेकेउपरांतबतायाकिहाउसनेउनकीगैरमौजूदगीमेंइसजमीनपरनगरकौंसिलकादफ्तरबनानेकाप्रस्तावडालाथा,जबकिसंघर्षकारियोंकोयहभ्रमथाकिजमीनबेचनेकाप्रस्तावडालागयाहै।प्रस्तावकोकोईप्रवानगीनहींमिलीहै।इसजमीनबाबतमालविभागसेरिकार्डनिकलवायागयाहै,जिसमेंयहसाफहुआहैकियहजमीननतोनगरकौंसिलकीमालकियतमेंहैतथानहीमंदिरकमेटीकी।इसजमीनकामालकियतस्थानकसरकारकेनामपरहै।संघर्षकारीसुभाषकटारियाकोप्रस्तावकीकापीवफर्दकीकापीसौंपकरसंतुष्टकरवादियागयाहै।

मरणव्रतपरबैठेसुभाषकटारियानेकहाकिनगरकौंसिलइसजमीनपरअपनाहकजतारहीथी,जबकियहजगहमंदिरकमेटीकीहै।इसबाबतनगरकौंसिलनेउन्हेंदस्तावेजवफर्दकीकापीमुहैयाकरवाईहै।लिखिततौरपरपक्केदस्तावेजबुधवारकोमुहैयाकरवादिएजाएंगे।नगरकौंसिलवप्रशासनिकअधिकारियोंनेउन्हेंभरोसादिलायाहैकिनतोयहांपरदफ्तरबनायाजाएगातथानहीजगहकोबेचाजाएगा।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!