जासं,सिमडेगा:सड़कदुर्घटनापरअंकुशलगानेकोलेकरजिलापरिवहनपदाधिकारीकुंवरसिंहपाहनकेनेतृत्वमेंफरसाबेड़ाएनएच144तथाश्रीवीरशहीदतेलंगाखड़ियाचौककोलेबिरामेंसघनजांचअभियानचलायागया।वाहनजांचमेंबड़ेतथाछोटेवाहनोंकीलंबीकतारदेखनेकोमिली।मौकेपरएक-एकवाहनचालकोंसेसरलतापूर्वकजिलापरिवहनपदाधिकारीतथासड़कसुरक्षाकीटीमकेद्वारावाहनकेकागजातों,लाइसेंसतथासड़कसुरक्षासेसंबंधितअन्यचीजोंकीसघनजांचकीगई।जिनवाहनचालकोंकेद्वारासड़कसुरक्षाकेनियमोंकेअवहेलनाकरनेतथाजरूरीकागजात,लाईसेंसनहींपायेजानेपरचलानकटातेहुएकार्रवाईकीगई।वहींश्रीकुंवरसिंहपाहननेवाहनजांचकेदौरानवाहनचालकोकोइतिलाकरतेहुएकहाकिसड़कसुरक्षाकेनियमोंकापालनकरनामतलबअपनीसुरक्षाकरनाहै।वहींउन्होंनेदोपहिएवाहनचलानेवालेचालकोंकोकहाकिसरकाबालखराबहोजाएगा,येसोंचकेहेलमेटनपहननेसेपहलेयेसोंचेकीबालनहींरहेगातोचलेगापरन्तुअगरवाहनचलातेवक्तहेलमेटकाप्रयोगनहींकरेंगेतोसड़कदुर्घटनाओंमेंआपकीजानभीजासकतीहै।इसलिएआपसभीवाहनचालकवाहनचलातेसमयहेलमेटतथासड़कसुरक्षाकेनियमोंकासख्तीकेसाथपालनकरें।वहींसड़कसुरक्षाकेआईटीमैनेजरब्रजेशकुमारनेजांचकेदौरानवाहनचालकोंकोसड़कसुरक्षाकेनियमोंकेबारेंमेंभीबताया।उन्होंनेकहाकिप्रत्येकव्यक्तिकोवाहनचलातेवक्तअपनेतथाअपनेसाथबैठेलोगोंकीसुरक्षाकरनाप्रथमकतव्यहै।हमाराभीयहीप्रयासहैकिवाहनदुर्घटनामेंकिसीकोकोईक्षतिनाहो।प्रत्येकव्यक्तिसड़कसुरक्षाकेनियमोंकापालनकरें,तोआनेवालेभविष्यमेंसड़कदुर्घटनाजैसीसमस्याओंसेनिजातमिलेगातथाएक-एकव्यक्तिसुलभतरीकेसेआवागमनकरसकेगा।वाहनजांचकेक्रममें29गाड़ियोंकाचालानकाटागया,जिसमें68000कीवसूलीकीगई।वाहनजांचकेदौरानसड़कसुरक्षाकेआईटीसहायकनितेशकुमार,तकनीकीसहायकअमरजीतकुमार,जिलापरिवहनकार्यालयकेकर्मी,पुलिसबलकेअलावेअन्यउपस्थितथे।