लखनऊ:प्रदेशसरकारनेकोरोनामहामारीकेकारणअनाथहुएबच्चोंकेभरण-पोषणवशिक्षा-दीक्षाकेप्रबंधनकेलिएशुरू"मुख्यमंत्रीबालसेवायोजना"कादायराबढ़ानेकाफैसलालियाहै.सीएमयोगीनेइसयोजनाकेतहतराशिप्राप्तकरनेकेलिएपरिवारकीन्यूनतमआयसीमाको2लाखसेबढ़ाकर3लाखकरनेकेनिर्देशदिएहैं.सरकारकेइसफैसलेसेहज़ारोंबच्चोंऔरउनकेपरिवारकोबड़ीराहतमिलेगी.

आयसीमाकोबढ़ाकरतीनलाखकियागया

कोरोनाकालमेंबड़ीसंख्यामेंबच्चोंनेअपनेमातापितादोनोंयाउनमेंसेकिसीएककोखोयाहै.इनबच्चोंकेभरण-पोषणवशिक्षा-दीक्षाकेप्रबंधनकेलिएमुख्यमंत्रीबालसेवायोजनाशुरूकीगई.इसकेतहतप्रतिमाह4हज़ाररुपयेसहायताराशिदेनेकाप्रावधानहै.योजनाकोजबशुरूकियागयातोयेशर्तरखीगयीकिसिर्फउन्हींकोइसकालाभमिलेगाजिनकीपारिवारिकआय2लाखरुपयेतकहोगी.लेकिनअबइसआयसीमाकोएकलाखबढ़ाकरतीनलाखतयकियागयाहै.

3590बच्चेचिन्हितकियेगये

पहलेहीप्रदेशमेंमुख्यमंत्रीबालसेवायोजनाकेतहत3,590बच्‍चोंकोचिन्हितकियाजाचुकाहै.इनमेंकरीब500बच्‍चेऐसेहैं,जिन्‍होंनेअपनेमाता-पितादोनोंकोहीकोरोनाकालमेंखोदिया.वहीं,बाकीवोबच्‍चेहैं,जिन्‍होंनेमाता-पितामेंसेकिसीए‍ककोखोयाहै.लेकिनअबपारिवारिकआयकीसीमाडेढ़गुनातकबढ़ायेजानेकेबादऔरअधिकबच्चेइसयोजनाकालाभपासकेंगे.

निराश्रितमहिलापेंशनयोजनाकाभीलाभमिले

सीएमयोगीनेयेभीनिर्देशदिएहैंकियदिबच्चेकीमाताजीवितहैंतोउन्हेंनिराश्रितमहिलापेंशनवअन्यपात्रयोजनाओंसेभीलाभान्वितकरायाजाए.साफजाहिरहैकिऐसेमेंकोरोनासेप्रभावितपरिवारकोबड़ीराहतमिलेगी.बालसेवायोजनामें4हज़ारमासिककेसाथनिराश्रितमहिलापेंशनवअन्ययोजनाओंकालाभमिलनेसेपरिवारकोइसमुश्किलमेंसंभालनेकामौकामिलपायेगा.