वाराणसी,जेएनएन।विश्वविख्यातवाराणसीकेश्रीकाशीविश्वनाथमंदिरप्रशासननेभारीभीड़सेबचनेकेलिएअबव्यवसथामेंपरिवर्तनकियाहै।मंदिरप्रशासननेमंदिरकेगर्भगृहमेंश्रद्धालुओकेप्रवेशपरस्थायीरोकलगादीहै।यहांपरअबसभीश्रद्धालुमंदिरकेगर्भगृहकेदरवाजेसेहीजलाभिषेककरेंगे।

वाराणसीकेश्रीकाशीविश्वनाथमंदिरप्रशासननेयहांमंदिरकेगर्भगृहमेंश्रद्धालुओकेप्रवेशपरस्थायीरोकलगादीहै।अबश्रद्धालुगर्भगृहकेदरवाजेसेहीजलाभिषेककरेंगे।श्रीकाशीविश्वनाथमंदिरकेकार्यपालकअधिकारीविशालसिंहनेबतायादरअसलसावनमेंश्रद्धालुओंकीभारीभीड़कोदेखतेहुएअस्थाईतौरपरइसबारमंदिरकेगर्भगृहकेदरवाजेसेहीजलाभिषेककीव्यवस्थाकीगईथी।इसनिर्णयसेपूरेसावनकाफीअच्छेपरिणाममिले।सभीश्रद्धालुओंनेबिनाकिसीपरेशानीकेआसानीसेजलाभिषेककिया।वहींप्रशासनकोभीभीड़सेज्यादापरेशानीनहींहुई।

उन्होंनेबतायाकिऐसीहीव्यवस्थाझारखंडमेंदेवघरमेंबैजनाथधाममेंभीकीगईहै।विशालसिंहनेबतायाकिअबमंदिरप्रशासननेतयकियाहैकिइसअस्थायीव्यवस्थाकोस्थायीकियाजाए।अबश्रद्धालुओंकागर्भगृहमेंप्रवेशनहींदियाजाएगा।यहांपरगर्भगृहकेचारद्वारहैं,श्रद्धालुओंकोप्रवेशऔरनिकासीमेंदोद्वारकाहीइस्तेमालहोताहै।भीड़बढऩेपरदबावकाफीहोजाताहै।वहींचारोंद्वारपरअर्घालगाकरसीधेजलाभिषेककीव्यवस्थाहोनेसेसभीश्रद्धालुओंकोभीसुविधामिलेगी।