देशमें1984केसिखविरोधीदंगामेंभलेहीकोर्टनेजगदीशटाइटलरऔरसज्जनकुमारकोदोषीमानतेजेलभेजदियाहै।मगर,कानपुरसिखदंगेकीजांचकररहीSITअब12मामलोंकीजांचपूरीहोनेकेबादभीआरोपियोंकीगिरफ्तारीनहींकररहीहै।वजहशासनकीअनुमतिकाइंतजार।शासनकीहरीझंडीमिलनेकेबादआरोपियोंकीताबड़तोड़गिरफ्तारीकरकेचुनावसेठीकपहलेमाहौलबनाएगी।इसकीपूरीस्क्रिप्टतैयारकरलीगईहै।बसअंजामदेनाबाकीहै।

37सालबादखोजनिकाले33जघन्यहत्याकांडके67आरोपी

पूर्वप्रधानमंत्रीइंदिरागांधीकीहत्याकेबाद1984मेंकानपुरमेंहुएदंगोंमें127सिखोंकीहत्याहुईथी।उसदौरानकानपुरनगरमेंहत्या,लूट,डकैतीऔरआगजनीसमेतअन्यधाराओंमें40मुकदमेदर्जहुएथे।पुलिसनेइनमेंसे29मामलोंमेंफाइनलरिपोर्टलगादीथी।27मई,2019कोइसमामलेमेंप्रदेशसरकारनेSITगठितकीथी।

SITकेएसएसपीबालेंदुभूषणनेबतायाकिबंदकिएगए(फाइनलरिपोर्ट)20मुकदमोंकीकोर्टसेअनुमतिलेकरदोबाराजांचशुरूकीगईतोचौंकानेवालेतथ्यसामनेआए।इसमेंसे12मामलोंकीजांचमेंप्रत्यक्षदर्शीगवाह,फोरेंसिकटीमकीजांचमेंखूनकेधब्बेसमेतकईअहमसाक्ष्यमिलेऔर67आरोपीचिह्नितकिएगए।

इसमें18-20आरोपियोंकीउम्र75से80सालकेकरीबऔरगंभीररोगोंसेपीड़ितहैं।जांचपूरीहोनेकीएकरिपोर्टबनाकरशासनकोभेजदीगईहै।अबशासनसेहरीझंडीमिलतेहीआरोपियोंकीगिरफ्तारीकीजाएगी।

कागजोंमेंचलरहादबिशऔरफरारीकाखेल

सिखदंगेकीग्राउंडरिपोर्टिंगकेदौरानदैनिकभास्करकोइसबातकेभीसाक्ष्यमिलेकीSITजांचपूरीहोनेकेबादअबदबिशऔरफरारीकाखेलकागजोंमेंकररहीहै।कागजोंमेंदिखारहीहैकिआरोपियोंकीगिरफ्तारीकेलिएताबड़तोड़गिरफ्तारीकीजारहीहै,लेकिनमौकेपरमिलनहींरहेहैं।

जबकिहकीकतइसकेउलटहैकिशासनकीहरीझंडीकाइंतजारहै।सूत्रोंकीमानेंतोआरोपियोंकीगिरफ्तारीचुनावसेठीकपहलेकरकेBJPकेपक्षमेंमाहौलबनानेकीकोशिशकीजाएगी।

जांचएजेंसियांसत्ताकेदबावमेंकररहीहैंकाम

सीनियरआईपीएसअसीमअरुणऔरराजेश्वरसिंहकाअचानकबीजेपीमेंशामिलहोजाना।इनकायहफैसलाकईसवालखड़ेकरताहै।इसीतरहअबकानपुरसिखविरोधीदंगा-1984कीजांचकररहीSITआरोपियोंकीगिरफ्तारीकेलिएचुनावकाइंतजारकररहीहै।

सूत्रोंकीमानेंतोप्रथमचरणचुनावकेठीकपहलेआरोपियोंकीगिरफ्तारीकरकेसरकारबताएगीकिउनकेशासनमेंसिखोंको37सालबादइंसाफमिलसकाहै।इससेकानपुरहीनहींपूरेप्रदेशमेंसिखोंकावोटभाजपाकीतरफप्रभावितहोगा।

छहमहीनेकेलिएगठितहुईथीSIT,तीनसालपूरे

शासननेछहमहीनेकेलिएसिखदंगोंकीजांचकेलिएSITकागठनकियाथा।लेकिन5फरवरी2022कोतीनसालपूरेहोजाएंगे।इसकेबादभीअभीतकसिखदंगेकेसभीमामलोंकीजांचपूरीनहींहोसकीहै।छह-छहमहीनेकरकेछहबारसमयबढ़ाऔरअबतीनसालपूरेहोगएहैं।लेकिनअबचुनावकेबादतेजीसेजांचपूरीकरकेसभीमामलोंकेआरोपियोंकोजेलभेजाजाएगा।

साक्ष्यमिलनेपर13वेंकेसकीभीशुरूकीजांच

SITDIGबालेंदुभूषणसिंहनेबतायाकिअबतक12केसोंकीविवेचनापूरीकीजाचुकीहै।अबएकअन्यकेसयानी13वेंकेससेसंबंधितभीतमामदस्तावेज,गवाह,वादीऔरआरोपियोंकेनामआदिमिलगए।यहकेसनौबस्ताथानेकाहै।केसनंबर498/84है।केसविजेंदरकौरनेदर्जकरायाथा।इसमेंउनकेपतिगुरुमेंद्रसिंह,ससुरनगीनासिंहवदेवरकीहत्याकरदीगईथी।डीआईजीनेबतायाकिकेसकीविवेचनाअबशुरूकीगईहै।इसहिसाबसेअब13वेंकेसमेंSITचार्जशीटकीतरफबढ़रहीहै।

89पहुंचीआरोपियोंकीसंख्या,70जिंदाहैं

SITने12केसोंके67आरोपियोंकोचिन्हितकियाथा।वहींअबनौबस्ताथानेके351/84केसवअबजोनया13वांकेसखुलाहैइनदोनोंकोमिलाकर22आरोपियोंकेनामसामनेआएहैं।इनकेनामवपतेआदिSITकोमिलगएहैं।इसहिसाबसेसभी13केसोंके89आरोपियोंकीपहचानकीजाचुकीहै।इनमेंसे70आरोपीजीवितहैं।इनसभीपरअबगिरफ्तारीकीतलवारलटकनेलगीहै।नजीराबादवालेकेसमेंगुरुचरणसिंहवअमोलकसिंहकीहत्याकीगईहै।इसमेंSITकोपांचअहमगवाहभीमिले।अकेलेइसीकेसमें15आरोपीहैं।