संवादसूत्र,मलोट(श्रीमुक्तसरसाहिब):वीरवारकोविजिलेंसकेडीएसपीराजकुमारकेनेतृत्वमेंगईटीमनेशहरकेकैरोंरोडपरनईबनीसड़ककीजांचकी।जीटीरोडसेबख्शीससिंहचौकतकबनीकरीबदोकिलोमीटरलंबीइससड़कपरपांचजगहसेसैंपललिएगए।डीएसपीनेबतायाकिउन्हेंअज्ञातव्यक्तिनेसड़कमेंघटियामटीरियललगानेकीशिकायतकीथी।वीरवारकोचंडीगढ़सेटेक्निकलटीमबुलवाईगईथी।इसमेंएक्सईएन,एसडीओसमेतअन्यअधिकारीमौजूदथे,जिन्होंनेइससड़कसेसैंपललिए।डीएसपीनेबतायाकिवहइसकीरिपोर्टबनाकरअधिकारियोंकोभेजदेंगे।उसकेबादहीआगामीकार्रवाईअमलमेंलाईजाएगी।यहांनगरकौंसिलकेकार्यसाधकअधिकारीजगसीरसिंह,एएमईदिनेशशर्मा,जेईनिरभैलसिंह,बलकारसिंह,सरबजीतसिंहआदिमौजूदथे।

डीएसपीनेलगाईनगरकौंसिलकीक्लास

इसदौरानजांचकेलिएजबसड़ककीखुदाईकरनेकोकहागयातोनगरकौंसिलनेकहाकिउनकेपासतोमजदूरोंकीकमीहैऔरपूरेऔजारभीनहींहै।जिसपरडीएसपीनेउनकीक्लासलगातेहुएकहाकियदिआपकोपताथाकिआजटीमआरहीहैतोइसकाप्रबंधतोआपनेहीकरनाथा।आपकेपासनमजदूरहैंऔरनहीऔजार।इसकेबादउन्होंनेखुदहीऔजारकाप्रबंधकिया।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!